महाराजा अग्रसेन की धरती पर होने वाले धार्मिक कार्यक्रम की तैयारियां शुरु

31 दिसंबर को अग्रोहा धाम में नव वर्ष के मौके पर धार्मिक कार्यक्रम का आयोजन होगा.

महाराजा अग्रसेन की धरती पर होने वाले धार्मिक कार्यक्रम की तैयारियां शुरु
हिसार में बैठक करते अग्रोहा विकास ट्रस्ट के पदाधिकारी

हिसार: महाराजा अग्रसेन की प्राचीन राजधानी रहे अग्रोहा (Agroha) का नाम देश ही नहीं विदेशों में भी मशहूर हैं. अग्रोहा में स्थित धाम के कार्य में जुटा अग्रोहा धाम विकास ट्रस्ट समाज हित के कार्यों को और ज्यादा गति देने के उद्देश्य से लगातार रणनीति बनाने में जुटी रहता है. इसी कड़ी में अग्रोहा विकास ट्रस्ट के पदाधिकारियों की हिसार में बैठक हुई, जिसमें निर्णय लिया गया कि 31 दिसंबर को अग्रोहा में नव वर्ष के मौके पर धार्मिक कार्यक्रम का आयोजन होगा. इस कार्यक्रम की रूपरेखा क्या रहने वाली है, बैठक में इन तमाम पहलुओं पर मंथन हुआ. अग्रोहा धाम विकास ट्रस्ट के कार्यकारी राष्ट्रीय अध्यक्ष बजरंग दास ने बताया कि नववर्ष के मौके पर अग्रोहा धाम में भव्य धार्मिक कार्यक्रम होगा. आने वाला साल समाज और देश के लिए समृद्धिशाली हो इसे लिए भजन संध्या के साथ-साथ हवन यज्ञ भी होगा.

आपको बता दें कि अग्रोहा धाम एक धार्मिक स्थान के साथ-साथ पर्यटन केंद्र भी है. कार्यकारी राष्ट्रीय अध्यक्ष बजरंग दास गर्ग ने बताया कि हम धाम के नेतृत्व में समाज से जुड़े सभी लोग समाज हित के कार्यों में जुटे हुए हैं. महाराजा अग्रसेन की नीतियों और उनकी जनकल्याण की सोच को आम जनता तक पहुंचाया जाए यही हमारे ट्रस्ट का उद्देश्य है. धाम में होने वाले कार्यक्रम के लिए सभी लोगों की जिम्मेदारियों को सुनिश्चित कर दिया गया है.

अग्रोहा विकास ट्रस्ट के महामंत्री कृष्ण खारियां ने बताया कि कार्यक्रम में धाम को भव्य रूप से सजाया जाएगा. इसके अलावा देश भर में ट्रस्ट से जुड़े पदाधिकारियों को कार्यक्रम में आने का न्यौता भी दिया जाएगा. कार्यक्रम अच्छी तरीके से हो इसके लिए सारी तैयारियां की जा चुकी हैं. आपको बता दें कि अग्रोहा धाम में समय-समय पर राज्यसभा सांसद डॉ सुभाष चंद्रा (Dr. Subhash Chandra) भी पहुंचते हैं और मां कुलदेवी लक्ष्मी का आर्शीवाद प्राप्त करते हैं. ट्रस्ट के पदाधिकारियों ने आम जनता से कार्यक्रम में आने का आह्वान किया है. आप सभी इस पावन बेला में धाम में पहुंचकर मां कुलदेवी का आर्शीवाद प्राप्त करें.