अजय माकन ने इलेक्ट्रिक बसों की खरीद में घोटाले का आरोप लगाया, AAP ने आरोपों को नकारा

माकन ने दावा किया कि 12 मीटर की एक एसी बस की कीमत 1.75 करोड़ रुपये है और सरकार ने अदालत में दाखिल अपनी रिपोर्ट में कहा है कि प्रत्येक लो फ्लोर इलेक्ट्रिक बस की कीमत 2.5 करोड़ रुपये है

अजय माकन ने इलेक्ट्रिक बसों की खरीद में घोटाले का आरोप लगाया, AAP ने आरोपों को नकारा
दिल्ली प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष अजय माकन. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: कांग्रेस की दिल्ली इकाई ने आप सरकार द्वारा 1000 लो फ्लोर इलेक्ट्रिक बसों की खरीद किए जाने में 750 करोड़ रुपये के घोटाले का शनिवार को आरोप लगाया. हालांकि , सत्तारूढ़ पार्टी ने इन आरोपों को ‘महत्वहीन ’ बताकर खारिज कर दिया. 

दिल्ली सरकार द्वारा ‘ कोष की स्थिति पर ’ उच्चतम न्यायालय में दायर रिपोर्ट और ईपीसीए की एक रिपोर्ट का हवाला देते हुए दिल्ली प्रदेश कांग्रेस प्रमुख अजय माकन ने आरोप लगाया कि सरकार ने अदालत में गलत तथ्य पेश किए कि उसे केंद्रीय योजना के तहत 40 इलेक्ट्रिक बसों की खरीद के लिये 40 करोड़ रुपये दिये गए हैं. 

माकन ने दावा किया कि 12 मीटर की एक एसी बस की कीमत 1.75 करोड़ रुपये है और सरकार ने अदालत में दाखिल अपनी रिपोर्ट में कहा है कि प्रत्येक लो फ्लोर इलेक्ट्रिक बस की कीमत 2.5 करोड़ रुपये है. उन्होंने आरोप लगाया कि इस तरह 1000 इलेक्ट्रिक बसों की खरीद में 750 करोड़ रुपये का घोटाला है. 

इस बीच, आप के मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने कहा कि माकन के आरोप ‘ महत्वहीन ’ हैं. भारद्वाज ने कहा कि माकन ने जिस कीमत का जिक्र किया है वह ‘ अनुमानित लागत ’ है. उन्होंने कहा , ‘सरकार वैश्विक निविदा आमंत्रित करेगी और कोई भी कंपनी उसमें हिस्सा ले सकती है. ’

दिल्ली सरकार ने इस सप्ताह की शुरूआत में उच्चतम न्यायालय से कहा था कि मंत्रिपरिषद ने सिद्धांत रूप में 1000 लो फ्लोर इलेक्ट्रिक बसों की खरीद को मंजूरी दे दी है. इसके 2019 के जून - जुलाई तक आने की उम्मीद है. 

(इनपुट - भाषा)