CAA Protest: अमित शाह बोले, 'कांग्रेस के नेतृत्व में टुकड़े- टुकड़े गैंग दिल्ली की अशांति के लिए जिम्मेदार'

अमित शाह ने कहा, 'नागरिकता संशोधन कानून पर विपक्ष ने दिल्ली की जनता को गुमराह कर, दिल्ली की शांति को भंग किया है.'

CAA Protest: अमित शाह बोले, 'कांग्रेस के नेतृत्व में टुकड़े- टुकड़े गैंग दिल्ली की अशांति के लिए जिम्मेदार'
केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (फोटो-ANI)

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के विरोध में दिल्ली (delhi) में हुई हिंसक घटनाओं को लेकर गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने बड़ा बयान दिया है. अमित शाह ने कहा है कि कांग्रेस  (congress) के नेतृत्व में टुकड़े-टुकड़े गैंग दिल्ली की अशांति के लिए जिम्मेदार है. 

अमित शाह ने कहा, कांग्रेस पार्टी के नेतृत्व में टुकड़े-टुकड़े गैंग जो दिल्ली के अशांति के लिए जिम्मेदार है, इसको डंड देने का समय आ गया है. दिल्ली की जनता को दंड देना चाहिए.' गृहमंत्री ने दावा किया, 'नागरिकता संशोधन कानून पर विपक्ष ने दिल्ली की जनता को गुमराह कर, दिल्ली की शांति को भंग किया है.'

अमित शाह ने कहा कि नागिरकता संशोधन बिल पर संसद के अंदर चर्चा हुई, कोई कुछ बोलने को तैयार नहीं था, इधर-उधर की बातें करते थे. बाहर निकलते ही इसमें भ्रम फैसला शुरू किया और दिल्ली को अशांत किया.  बता दें दिल्ली में सीएए के विरोध में कई जगहों पर हिंसा हुई. जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी, सीलमपुर और दिल्ली गेट पर हिंसा भड़की थी. 

गृहमंत्री अमित शाह ने इस मौके पर आप सरकार और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) पर भी निशाना साधा. गृहमंत्री ने कहा, 'केजरीवाल जी ने प्रधानमंत्री आवास योजना का फायदा गरीब लोगों को इसलिए नहीं पहुंचाया, क्योंकि उस योजना के आगे प्रधानमंत्री नाम जुड़ा है.'

अमित शाह ने कहा, 'मैं आज आपको सबसे बड़ा रोड़ा क्या है बताना चाहता हूं. मोदी जी, हरदीप जी तेज गति से काम करना चाहते हैं, मगर ये आप सरकार जो है वो एक बहुत बड़ा रोड़ा है. केजरीवाल सरकार हर विकास के काम में अड़ंगा लगाती है. 

अमित शाह ने कहा, 'केजरीवाल जी को मुख्यमंत्री बने करीब 60 महीने होने को आए हैं, आज से पहले ये सारे वादे पूरे क्यों नहीं किए। अब भी ये वादे पूरे नहीं होने वाले हैं, सिर्फ विज्ञापन देकर ये लोगों को झांसा दे रहे हैं। इन्होंने जीवन में सिर्फ विरोध करने और धरना देने का काम किया है.'

ये वीडियो भी देखें: