अंकित शर्मा मर्डर केस: ताहिर हुसैन की जमानत याचिका पर 13 जुलाई को फैसला

दिल्ली दंगों के दौरान आईबी अधिकारी अंकित शर्मा की हत्या मामले में आरोपी ताहिर हुसैन ने जमानत याचिका दायर की है. 

अंकित शर्मा मर्डर केस: ताहिर हुसैन की जमानत याचिका पर 13 जुलाई को फैसला

नई दिल्ली: आप के सस्पेंडेड पार्षद ताहिर हुसैन (Tahir Hussain) की जमानत याचिका पर कड़कड़डूमा कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रख लिया है. 13 जुलाई को कोर्ट सुनाएगा फैसला.

दिल्ली दंगों के दौरान आईबी अधिकारी अंकित शर्मा की हत्या मामले में आरोपी ताहिर हुसैन ने जमानत याचिका दायर की है. इस मामले में दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने चार्जशीट दायर कर दी है. लेकिन क्राइम ब्रांच ने अपने चार्जशीट में कहा था कि जांच आगे जारी है.

3 जून को क्राइम ब्रांच ने पूर्व आप पार्षद ताहिर हुसैन समेत कुल 10 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दायर की थी. 

चार्जशीट में क्राइम ब्रांच ने कहा कि अंकित शर्मा की खजूरी खास इलाके में बर्बरता से हत्‍या की गई. चार्जशीट में अंकित की हत्‍या को बेहद सोची-समझी साजिश का नतीजा बताया गया. खजूरी खास इलाके में ताहिर हुसैन के घर के बाहर वारदात हुई. अंकित शर्मा की हत्‍या के बाद उसके शव को एक नाले में फेंक दिया गया.

चार्जशीट में पुलिस ने बताया कि डॉक्‍टर्स ने पाया कि तेज धार वाले हथियार से 51 वार के निशान हैं. पुलिस का दावा है कि उसके पास ऐसे सबूत हैं जिनसे पता चलता है कि ताहिर ने ही चांद बाग इलाके में भीड़ को उकसाया.