दिल्ली के सरकारी स्कूल में मेलानिया ट्रंप का दौरा, केजरीवाल और सिसोदिया की NO ENTRY

 अमेरिका की प्रथम महिला मेलानिया ट्रंप अपनी भारत यात्रा के दौरान दिल्ली के एक सरकारी स्कूल के कार्यक्रम में शामिल होने वाली हैं.

दिल्ली के सरकारी स्कूल में मेलानिया ट्रंप का दौरा, केजरीवाल और सिसोदिया की NO ENTRY
फाइल फोटो

नई दिल्ली: अमेरिका की प्रथम महिला मेलानिया ट्रंप अपनी भारत यात्रा के दौरान दिल्ली के एक सरकारी स्कूल के कार्यक्रम में शामिल होने वाली हैं. लेकिन दिल्ली सरकार के सूत्रों के मुताबिक इस कार्यक्रम में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया हिस्सा नहीं ले पाएंगे. कहा जा रहा है कि इनका नाम लिस्ट से हटा दिया गया है.

बता दें कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप 24 और 25 फरवरी को दो दिनों की भारत यात्रा पर आने वाले हैं. इस दौरान राष्ट्रपति ट्रंप के साथ उनकी पत्नी मेलानिया ट्रंप और बेटी इवांका भी आएंगी. मेलानिया ट्रंप 25 फरवरी को दिल्ली के सरकारी स्कूल के कार्यक्रम में हिस्सा ले सकती हैं. वह केजरीवाल सरकार के स्कूल में हैप्पीनेस क्लास देखेंगी. ऐसी उम्मीद जताई जा रही थी कि कार्यक्रम में दिल्ली के मुख्यमंत्री और उप-मुख्यमंत्री भी शिरकत करेंगे, लेकिन अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया का नाम हटा दिया गया है. 

सूत्रों का कहना है कि अमेरिकी दूतावास ने अनुरोध किया है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री इस कार्यक्रम में उपस्थित न हों. जब राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मुलाकात चल रही होगी, तब मेलानिया सरकारी स्कूल के दौरे पर होंगी और वह यहां एक घंटे तक का समय बिताएंगी.

दिल्ली सरकार के सूत्रों का दावा है कि स्कूल दिल्ली सरकार के अधीन आता है, इसलिए दोनों को कार्यक्रम में भाग लेना था, लेकिन अब उनका नाम हटा दिया गया है, तो वो हिस्सा नहीं लेंगे.

दूसरी तरफ दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने केजरीवाल और सिसोदिया के न जाने को लेकर कहा है कि फिलहाल सरकार के पास इसकी कोई आधिकारिक जानकारी नहीं है, न ही इसकी कोई सूचना है.

वहीं इस पर बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा, कुछ मुद्दों पर निम्न स्तर की राजनीति नहीं होनी चाहिए. अगर हम एक-दूसरे के पैर खींचना शुरू करते हैं, तो भारत विवादों में आता है. भारत सरकार अमेरिका को नहीं बोलती है कि किसे आमंत्रित करें और किसे नहीं.'

केजरीवाल सरकार की हैप्पीनेस क्लास की बात करें, तो ये साल 2018 में शुरू हुई थी. यह क्लास नर्सरी से 8वीं तक के छात्रों के लिए होती है, जिसका लक्ष्य बच्चों के मानसिक तनाव और अवसाद को दूर करना है. इसमें सिर्फ छात्रों के हैप्पीनेस इंडेक्स का मूल्यांकन किया जाता है.

बता दें कि भारत की दो दिवसीय यात्रा पर आ रहे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के इवेंट में भारत के किसी भा राज्य के मुख्यमंत्री शामिल नहीं किए जाएंगे.