Breaking News
  • उत्‍तर-पूर्वी दिल्‍ली के डीसीपी दफ्तर पहुंचे NSA अजित डोवल
  • हिंसा के बाद दिल्‍ली के हालात संभालने की जिम्‍मेदारी NSA को मिली
  • पाकिस्‍तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ भगोड़ा घोषित

पूरे दिन रोड शो करते रहे अरविंद केजरीवाल, नहीं भर पाए चुनावी नामांकन

दिल्‍ली विधानसभा चुनावों (Delhi Elections 2020) के मद्देनजर मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल आज नई दिल्‍ली सीट से अपना नामांकन करने वाले थे लेकिन आज वह ऐसा नहीं कर सके.

पूरे दिन रोड शो करते रहे अरविंद केजरीवाल, नहीं भर पाए चुनावी नामांकन

नई दिल्‍ली: दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 (Delhi Assembly Elections 2020) के मद्देनजर मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind kejriwal) आज नई दिल्‍ली सीट से अपना नामांकन करने वाले थे लेकिन आज वह ऐसा नहीं कर सके. उन्‍होंने कहा कि मुझे आज तीन बजे नामांकन करना था लेकिन ऑफिस तीन बजे बंद हो जाता है. मुझसे कहा गया कि आप इससे पहले नामांकन भर लीजिए लेकिन रोड शो में जो लोगों का हुजूम आया है, उनको छोड़कर मैं कैसे चला जाऊं? लिहाजा अब मैं कल अपना नामांकन पत्र भरुंगा. अरविंद केजरीवाल तीसरी बार नई दिल्‍ली सीट से चुनाव लड़ने जा रहे हैं. 2013 में वह पहली बार इस सीट से उतरे थे और उन्‍होंने तत्‍कालीन मुख्‍यमंत्री शीला दीक्षित को हराया था.

इससे पहले जब केजरीवाल आज नामांकन दाखिल करने के लिए निकले उससे पहले अपने माता-पिता का आशीर्वाद लिया और मंदिर मार्ग स्थित वाल्मिकी मंदिर से रोड शो शुरू किया. मां ने केजरीवाल को तिलक लगाया, हाथों में कलावा बांधा फिर नामांकन के लिए जाने को कहा.

LIVE TV

मालूम हो कि नई दिल्ली विधानसभा सीट पहले गोलमार्केट विधानसभा सीट के नाम से जानी जाती थी. 1998 और 2003 के विधानसभा चुनाव यहां से पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने जीत हासिल की थी. 2008 में परिसिमन के बाद यह नई दिल्ली विधानसभा सीट में बदल दी गई.  2008 में नेता शीला दीक्षित ने इस नई सीट पर चुनाव जीता. लेकिन यह 2013 का चुनाव था जब नई दिल्ली विधानसभा सीट चर्चा के केंद्र में आ गई. पहली बार राजनीति में उतर केजरीवाल ने इस सीट पर शीला दीक्षित को चुनौती दी.

इस चुनाव में हार के बाद शीला दीक्षित का राजनीतिक करियर पर ब्रेक लग गया और केजरीवाल न सिर्फ दिल्ली में बल्कि देश की राजनीति में एक बड़ा सितारा बनकर उभरे. इसके बाद 2015 का विधानसभा चुनाव उन्होंने इस सीट से आसानी से जीत लिया था.