close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

केजरीवाल ने सभी प्राइवेट स्कूलों को डेंगू अभियान का बनाया हिस्सा, 1 अक्टूबर को बच्चों से करेंगे बात

केजरीवाल ने कहा कि, कि मैं 1 अक्टूबर, मंगलवार को 12 बजे दिल्ली के सारे बच्चों से मुखातिब होऊंगा. मेरा आपसे अनुरोध है अपने-अपने स्कूल में इसकी व्यवस्था कर लीजिए.

केजरीवाल ने सभी प्राइवेट स्कूलों को डेंगू अभियान का बनाया हिस्सा, 1 अक्टूबर को बच्चों से करेंगे बात

नई दिल्ली: पांच साल पहले दिल्ली में दो तरह की शिक्षा व्यवस्था थी, एक सरकारी स्कूल की शिक्षा और एक प्राइवेट स्कूल की शिक्षा. किसी आदमी के पास अगर थोड़ा सा भी पैसा होता था तो वो अपने बच्चे को प्राइवेट स्कूल में भेजता था. बहुत मजबूरी में ही कोई अपने बच्चे को सरकारी स्कूल में भेजता था. ये असंतुलित शिक्षा व्यवस्था थी. पांच साल में हमने इस असंतुलन को खत्म किया है. हमने सरकारी स्कूलों को बहुत अच्छा किया है. उनमें बहुत सुविधाएं मुहैया करवाई हैं. दिल्ली के प्राइवेट और गवर्नमेंट ऐडेड स्कूल्स के प्रिंसिपल्स और वाइस प्रिंसिपल्स के साथ त्यागराज स्टेडियम में आयोजित के एक संवाद के दौरान मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल ने ये बातें कहीं.

सभी स्कूल अपने यहां पढ़ने वाले बच्चों को डेंगू और प्रदूषण के खिलाफ जागरूक करें, इस उद्देश्य से मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ये संवाद किया. डेंगू के खिलाफ 10 हफ्ते 10 बजे 10 मिनट कैंपेन के तहत दिल्ली सरकार ने स्कूली बच्चों के लिए एक किट भी तैयार करवाई है जिसे स्कूलों के जरिये बच्चों को उपलब्ध कराया जाएगा.

इसके अलावा प्रदूषण से निपटने के लिए अपने कार्यक्रम के तहत दिल्ली सरकार स्कूलों के जरिये बच्चों को मास्क भी उपलब्ध करवाएगी. इन मुद्दों पर बच्चों से 1 अक्टूबर 12 बजे, वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए सीधे संवाद साधेंगे मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल.

केजरीवाल ने कहा कि, कि मैं 1 अक्टूबर, मंगलवार को 12 बजे दिल्ली के सारे बच्चों से मुखातिब होऊंगा. मेरा आपसे अनुरोध है अपने-अपने स्कूल में इसकी व्यवस्था कर लीजिए, इस कैंपेन से संबंधित फिल्म भी हम दिखाएंगे और बच्चों को डेंगू-चिकनगुनिया के बारे में भी बताएंगे.

बच्चों से सीधी बातचीत करने की व्यवस्था आप लोग करेंगे, ऐसा आपसे अपेक्षा है. इसके अलावा बहुत जल्द हर बच्चे के लिए आप सबके स्कूल में डेंगू का एक किट भी दे दिया जाएगा. उसमें एक स्टीकर भी होगा. बच्चे अपने घर की चेकिंग करेंगे और अपने घर पर स्टीकर लगा देंगे कि उनका घर डेंगू मुक्त है. आपसे ये भी अनुरोध है कि बच्चों को इस किट के बारे में अच्छे से समझा दीजिएगा.