close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ATM में मदद करने के बहाने से जानता था पिन नंबर, बाद में साफ हो जाता था अकाउंट

महिला की शिकायत के बाद एटीएम के गार्ड की मदद से धरा गया आरोपी एटीएम ठग.

ATM में मदद करने के बहाने से जानता था पिन नंबर, बाद में साफ हो जाता था अकाउंट
पूछताछ में इस आरोपी बलबीर ने बताया कि वो अपने गैंग के बाकि के साथियो के साथ खासतौर पर महिलाओ और बुजुर्गो को एटीएम में मदद करने के बहाने से पहले उनका एटीएम पिन पता करता है

नई दिल्लीः राजधानी के द्वारका इलाके में पुलिस ने एक ऐसे शख्स को गिरफ्तार किया है जो एटीएम में लोगो की मदद करने के बहाने घुसता था और चालाकी से एटीएम पिन पता करके एटीएम चेंज करके लोगों को चूना लगाया करता था. 18 अगस्त को एक महिला ने बाबा हरिदास नगर पुलिस स्टेशन में शिकायत दी थी कि उसके बैंक से अचानक पहले 40,000 रुपए कट गए और फिर टोटल करीब डेढ़ लाख रुपए कट गए, महिला ने बताया कि एटीएम में उसकी एक शख्स ने मदद की थी उसके बाद से ये सब हुआ.

Image

इसके बाद द्वारका पुलिस ने टीम बनाई और उस शख्स के स्कैच को कई एटीएम गार्ड को दिया और नजर रखी गई. करीब दो महीने बाद एसबीआई एटीएम के गार्ड (पवन जो दिल्ली पुलिस की प्रहरी टीम में काम कर रहे गार्ड) ने पुलिस को जानकारी दी कि उस स्कैच जैसे हुलिए वाला एक शख्स एटीएम के बाहर बार बार घूम रहा है इसके बाद गार्ड ने पब्लिक की मदद से उसे पकड़ लिया.

Image

पूछताछ में इस आरोपी बलबीर ने बताया कि वो अपने गैंग के बाकि के साथियो के साथ खासतौर पर महिलाओ और बुजुर्गो को एटीएम में मदद करने के बहाने से पहले उनका एटीएम पिन पता करता है और फिर आसानी से उसका एटीएम कार्ड चेंज करके पैसे निकाल लिए करते थे. इस आरोपी के पास से अलग अलग बैंक के 22 एटीएम कार्ड और करीब 35000 रुपए बरामद किए है. फ़िलहाल इसके बाकि के साथियों की तलाश की जा रही है.