हुड्डा के बगावती बोल-कमेटी निर्णय लेगी नई पार्टी पर, सीएम बना तो 4 डिप्‍टी सीएम बनाऊंगा

भूपिंदर सिंह हुड्डा ने 25 सदस्यीय एक कमेटी बनाने का जरूर ऐलान किया है, जो इस पर आगे का निर्णय लेगी. इससे पहले रैली के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुड्डा के समर्थन में उमड़े तमाम नेताओं ने उनके नेतृत्व में आगे की लड़ाई लड़ने की बात कही.

हुड्डा के बगावती बोल-कमेटी निर्णय  लेगी नई पार्टी पर, सीएम बना तो 4 डिप्‍टी सीएम बनाऊंगा

रोहतक/हिसार: हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुड्डा द्वारा रोहतक में रविवार को की गई परिवर्तन महारैली में आखिरकार उन चर्चाओं पर विराम लग गया, जिसमें कहा जा रहा था कि वो कांग्रेस को अलविदा कहते हुए नई पार्टी बना सकते हैं, या किसी राजनीतिक दल में शामिल हो सकते हैं. हालांकि मंच से हुड्डा ने 25 सदस्यीय एक कमेटी बनाने का जरूर ऐलान किया है, जो इस पर आगे का निर्णय लेगी. इससे पहले रैली के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुड्डा के समर्थन में उमड़े तमाम नेताओं ने उनके नेतृत्व में आगे की लड़ाई लड़ने की बात कही.

विधायक करण दलाल, कांग्रेस के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष फूलचंद मुलाना और रघुबीर कादियान ने मंच से ही कांग्रेस के हरियाणा नेतृत्व में बदलाव के लिए हुंकार भरी. नेताओं ने कहा कि कांग्रेस आलाकमान को इस बात पर विचार करना चाहिए. रैली रोहतक के मेला ग्राउंड में हुई थी. भूपिंदर सिंह हुड्डा हरियाणा के वर्तमान शासन यानि बीजेपी की सत्ता से पहले लगातार 2 बार सीएम रह चुके हैं. हुड्डा सहित उनके गुट में शामिल तमाम नेतागण कांग्रेस के हरियाणा नेतृत्व यानि प्रदेशाध्यक्ष की कमान खुद के हाथों में चाहते है.

अलग पार्टी बनाए जाने की चर्चाओं पर भूपिंदर सिंह हुड्डा ने कहा कि "भाइयों के लिए आर-पार की लड़ाई लड़ने को तैयार हूं. लेकिन मैं अकेले फैसला नहीं ले सकता. एक कमेटी बनाऊंगा, जिसमे सभी एमएलए शामिल होंगे. 25 सदस्यीय कमेटी जो कहेगी, वही वो करेंगे. हुड्डा ने हरियाणा की जनता से हरियाणा बचाने का आह्वान करते हुए बीजेपी को जमकर घेरा.

पूर्व मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुड्डा और उनके बेटे दीपेंद्र सिंह हुड्डा समेत तमाम मंच पर मौजूद नेताओं ने बीजेपी को जमकर कोसा. नेताओं ने कहा कि हरियाणा में पिछले 5 साल से राज कर रही बीजेपी ने हर वर्ग के साथ धोखा किया है. जनता बदलाव चाहती है. यह बदलाव भूपिंदर सिंह हुड्डा के नेतृत्व में होगा.

370 पर फिर से किया समर्थन, बोले देशहित सर्वोपरि
कार्यक्रम के दौरान मंच से कांग्रेस नेता और पूर्व सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने फिर से 370 पर लिए गए फैसले को सही बताया. कुछ ऐसी ही बात उनके पिता ने भी कही. दीपेंदर ने कहा कि 370 पर देशहित में सही हुआ, लेकिन उन्होंने
बीजेपी पर निशाना भी साधा. दीपेंद्र बोले-जो लोग देश को राजहित और स्वार्थ के लिए इस्तेमाल करते हैं, दीपेंदर उसका साथ नहीं देगा. भाईचारे को तोड़ने वाली विचारधारा को भी हम समर्थन नहीं करते. वहीं, भूपेंद्र हुड्डा ने कहा कि 370 हटाना सही है. कांग्रेस के साथी कुछ भटक गए थे, जिन्होंने विरोध किया. लेकिन वो स्वाभिमान और देशभक्ति के नाम पर किसी से समझौता नहीं करेंगे. हुड्डा ने कहा कि बीजेपी 370 की आड़ में वोट बटोरने का काम कर रही है, यह गलत है. अगर कोई मंत्री जनता के आप आये और इस बात का जिक्र करें, तो पूछना कि इसमें तुम्हारा क्या रोल है?

भूपेंदर हुड्डा ने चुनावी घोषणाये भी की, 4 डिप्टी सीएम बनाने का ऐलान
कार्यक्रम के दौरान मंच से भूपिंदर सिंह हुड्डा ने कई चुनावी घोषणाएं भी कर दी. सबसे बड़ी घोषणा तो यही थी कि सत्ता में आने पर वह हरियाणा में 4 उप मुख्यमंत्री बनाएंगे. इनमें एक बैकवर्ड क्लास से, एक दलित वर्ग से एक ब्राह्मण और एक अन्य बिरादरी से होगा. अब सवाल यह उठता है कि भूपेंद्र सिंह हुड्डा अभी कांग्रेस में ही है ऐसे में बिना पार्टी की सहमति से वह खुद को कैसे मुख्यमंत्री डिक्लेयर कर सकते हैं और कैसे 4 उप मुख्यमंत्री बनाने की घोषणा कर सकते हैं?

हुड्डा ने घोषणा करते हुए कहा कि अगर सरकार बनी तो अपराधियों का हरियाणा से सफाया करेंगे. हुड्डा ने कानून व्यवस्था पर बीजेपी को घेरा. हुड्डा ने कहा कि किसानों के कर्ज माफ करेंगे. भूमिहीन किसानों के भी कर्ज माफ किये जायेंगे. उन्होंने कहा कि वो हरियाणा में लघु उद्योग लेकर आएंगे. आंगनवाड़ी, मिड डे मील कर्मचारियों का भत्ता सरकारी कर्मचारियों के समान करेंगे. साथ ही हरियाणा के कर्मियों के लिए पुरानी पेंशन स्कीम लागू होगी. पंजाब के समान वेतन लागू करेंगे. सभी गृहणियों को 2 हजार रुपये मासिक देंगे.. गरीबो को 300 यूनिट बिजली मुफ्त देंगे. फसल बीमा का किसानों के प्रिमियम का भुगतान भी सरकार करेगी.

हरियाणा के ये नेता थे मौजूद
महा परिवर्तन रैली में आये नेताओं की बात की जाए तो हरियाणा की पूर्व शिक्षा मंत्री गीता भुक्कल, कांग्रेस के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष फूलचंद मुलाना, कांग्रेस नेता नेता रणसिंह मान, पूर्व मंत्री सुखबीर कटारिया, रामनिवास घोड़ेला, रणबीर महेंद्रा, पूर्व सांसद धर्मपाल मलिक, रणधीर धीरा, नूह के पूर्व विधायक अवतार अहमद, भगत सिंह, धर्मबीर छोक्कर, राव बीरेंदर सिंह, उदयभान, रामेश्वर दयाल, विधायक कर्ण दलाल, राव नरेंद्र, पूर्व मंत्री मोहम्मद अलियास, पूर्व सांसद कैलाश सैनी, पूर्व सीपीएस जयबीर वाल्मीकि, सुमित्रा खटक सहित कई नेता मंच पर मौजूद थे.