close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

MCD Poll: केजरीवाल पर भाजपा ने साधा निशाना, कहा- नतीजे कुछ भी हों, ईवीएम को दोष नहीं देंगे

भाजपा ने अरविंद केजरीवाल के आरोप कि नगर निगम चुनाव में इस्तेमाल ईवीएम से छेड़छाड़ की गई थी, पर कहा कि नतीजा जो भी हम ई-वोटिंग प्रणाली पर कोई दोष नहीं देंगे.

MCD Poll: केजरीवाल पर भाजपा ने साधा निशाना, कहा-  नतीजे कुछ भी हों, ईवीएम को दोष नहीं देंगे
दिल्ली नगर निगम में 270 वार्डों में मतदान हुए थे. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने बुधवार (26 अप्रैल) को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आरोप कि नगर निगम चुनाव में इस्तेमाल इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) से छेड़छाड़ की गई थी, पर कहा कि नतीजा जो भी हम ई-वोटिंग प्रणाली पर कोई दोष नहीं देंगे.

वरिष्ठ भाजपा नेता आरपी सिंह ने एएनआई से कहा, 'मुझे उम्मीद है कि पार्टी 200 से ज्यादा सीटें हासिल करेगी, लेकिन चुनाव परिणाम कुछ भी हो हम उसके लिए ईवीएम को पर दोष नहीं मढ़ेंगे.' 

वहीं भाजपा सांसद मिनाक्षी लेखी ने निगम चुनाव में भाजपा की जीत पर भरोसा जताया और पार्टी के सभी नेताओं और कार्यकर्ताओं को पार्टी के समर्थन में खुलकर सामने आने के लिए धन्यवाद दिया.

लेखी ने एएनआई से कहा, 'एग्जिट पोल के परिणाम के आधार पर मेरे ख्याल से भाजपा बहुत अच्छा करने जा रही है.'  

दिल्ली नगर निगम चुनाव में 54 फ़ीसद मतदान
दिल्ली नगर निगम चुनाव में गड़बड़ ईवीएम की शिकायतों के बीच रविवार (23 अप्रैल) को करीब 54 प्रतिशत मतदान हुआ. मतदान शाम साढ़े पांच बजे खत्म हुआ. मतगणना 26 अप्रैल को होगी.

अरिवंद केजरीवाल नीत आप ने कई ईवीएम के गड़बड़ होने का आरोप लगाते हुए मतदान केंद्रों से मतदाताओं के लौटने का दावा किया है.

2012 में 53.23 प्रतिशत मतदान

राज्य चुनाव आयुक्त एसके श्रीवास्तव ने संवाददाता सम्मेलन में बताया कि उत्तरी नगर निगम के बख्तावरपुर वार्ड में सर्वाधिक 68 प्रतिशत मतदान हुआ जबकि दक्षिणी दिल्ली के लाडो सराय में सबसे कम 39 प्रतिशत मतदान हुआ. गौरतलब है कि 2012 के दिल्ली नगर निगम चुनाव में 53. 23 प्रतिशत मतदान हुआ था.

270 वार्ड में डाले गए मत

मतदान तीन नगर निगमों के 272 वार्डों के 270 वार्ड में हुआ. उम्मीदवारों की मौत के चलते दो वार्ड में चुनाव टाल दिया गया. 270 वार्डों में कुल 1,32,10,206 मतदाता वोट डालने के लिए योग्य थे. उत्तर दिल्ली नगर निगम (एनडीएमसी) में 103, दक्षिण दिल्ली नगर निगम में 104 और पूर्वी दिल्ली नगर निगम में 63 वार्डों के लिए वोट डाले गए. चुनावी मैदान में कुल 2535 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं.