close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

लालकिले के पास मिला टाइम बम, 3 मिनट में फटने वाला था तभी पुलिस को मिली सूचना और फिर...

दिल्ली के जामा मस्जिद के पास मीना बाजार के एक पार्क में बम पड़ा होने की सूचना के बाद राजधानी में हड़कंप मच गया.

लालकिले के पास मिला टाइम बम, 3 मिनट में फटने वाला था तभी पुलिस को मिली सूचना और फिर...

नई दिल्ली: दिल्ली के जामा मस्जिद के पास मीना बाजार के एक पार्क में बम पड़ा होने की सूचना के बाद राजधानी में हड़कंप मच गया. पूरी पुरानी दिल्ली में अफरा-तफरी मच गई. खबर मिलते ही सेना, दिल्ली पुलिस की कई टीम, आबदा प्रबंधन, दमकल विभाग के अलावा कई टीमें मौके पर पहुंच गई. दिल्ली पुलिस की टीम ने बम को डिफ्यूज किया. बम में बकायदा टाइमर लगा होने के अलावा इलेक्ट्रॉनिक सर्किट भी लगा हुआ था. बम को फटने में भी महज तीन मिनट बचे थे. लेकिन समय रहते बम को डिफ्यूज कर लिया गया. सब कुछ चलता रहा और लोगों की सांसे अटकी रही.

काफी देर बाद सुरक्षा एजेंसियों व दिल्ली पुलिस ने बम मिलने की घटना को मॉकड्रिल करार देकर बम को डमी बताया. डमी बम को सुरक्षा जांच के लिए पुलिस की ओर से ही रखा गया था. सेंटर डिस्ट्रीक्ट के डीसीपी मंदीप सिंह रणधावा ने बताया कि स्वतंत्रता दिवस पर सुरक्षा की जांच के लिए सुरक्षा एजेंसियों ने मॉकड्रिल की योजना बनाई थी.

इसी कड़ी में मीना बाजार के पास पार्क में डमी बम को रखकर दोपहर 3.45 बजे पीसीआर कॉल कर दी गई. खबर मिलते ही सेना की टीम, दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल, एफएसएल, क्राइम टीम, बम निरोधक दस्ता, डॉग स्क्वायड, दमकल विभाग, आबदा प्रबंधन की टीमें मौके पर पहुंच गई.

डमी बम को बिल्कुल असली बम की तरह बनाया गया था. उसमें डिजीटल घड़ी की तरह दिखने वाला टाइमर और इलेक्ट्रॉनिक सर्किट भी लगाया गया था. बम में फटने का समय भी बेहद कम सेट किया गया था. लोकल पुलिस की बम निरोधक दस्ते ने बम को डिफ्यूज किया.

यह सब स्थानीय लोगों के सामने हुआ तो उन्हें लगा कि असली में बम मिला है. पूरे इलाके में बम मिलने का हल्ला हो गया. लोगों में हड़कंप मच गया. कई घंटे चली अफरा-तफरी के बाद लोगों को डमी बम होने का पता चला तो उन्होंने राहत की सांस ली..हालांकि डमी बम को लेकर अफवाहों का बाजार गर्म रहा. कुछ लोगों का कहना था कि बम असली था, माहौल खराब न हो इसके लिए पुलिस जानबूझकर इसे डमी बम बता रही है. पुलिस ऐसे आरोपों से साफ इंकार कर रही है.