close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बुराड़ी केस : 6 मोबाइल फोन की डिटेल से खुलेगा 11 रहस्यमय मौतों का राज!

पुलिस को घटनास्थल से 6 मोबाइल फोन भी मिले हैं. ये सभी फोन एक ही स्थान पर साइलेंट मोड पर रखे हुए थे. पुलिस इन फोन की कॉल डिटेल की जांच कर रही है. 

बुराड़ी केस : 6 मोबाइल फोन की डिटेल से खुलेगा 11 रहस्यमय मौतों का राज!
दिल्ली में हुई सामूहिक आत्महत्या के पीछे पुलिस अंधविश्वास को एक कारण मान कर चल रही है

नई दिल्ली : यहां बुराड़ी के संत नगर इलाके में एक ही घर में 11 लोगों की रहस्मय सामूहिक आत्महत्या के मामले में दिल्ली पुलिस कई पहलुओं पर जांच कर रही है. घटनास्थल से मिले दो रजिस्टरों के पन्ने इस अंधविश्वास के चलते मोक्ष प्राप्ति के लिए मौत को गले लगाने की बात कह रहे हैं, तो मतृक परिवार के रिश्तेदार इसे हत्याकांड बता रहे हैं. हालांकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में इस बात की पुष्टि हो चुकी है कि ये सभी मौत फांसी लगने के कारण हुई हैं. किसी भी शव पर जोर-जबरदस्ती के निशान नहीं हैं. घर का सारा सामान व्यवस्थित है और कहीं से किसी चीज के गायब होने के संकेत नहीं मिले हैं.

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की शुरूआती जांच इसे अंधविश्वास के चलते सामूहिक आत्महत्या ही बता रही है, लेकिन क्राइम ब्रांच की जांच की सुई कई और पहलुओं पर भी घूम रही है. जैसे घर में जीवित मिले एकमात्र जीव यानी कुत्ते, जिसे मृतक परिवार जैकी के नाम से बुलाता था, के आधार पर कुछ सुराग खोजने में जुटी हुई है. डॉग एक्सपर्ट को इस काम में लगाया गया है.

यह भी पढ़ें : डियर जिंदगी: बच्‍चों को यह हुआ क्‍या है...

इसके अलावा पुलिस को घटनास्थल से 6 मोबाइल फोन भी मिले हैं. ये सभी फोन एक ही स्थान पर साइलेंट मोड पर रखे हुए थे. पुलिस इन फोन की कॉल डिटेल की जांच कर रही है. 

बुराड़ी केस : घर में लटके मिले 11 शवों का बरगद की जटाओं से क्या है कनेक्शन!

पुलिस के सूत्र बताते हैं कि इन 6 फोन में से दो फोन में कुछ खास नंबरों पर लंबी बातचीत होने की जानकारी मिली है. यह बातचीत पिछले कुछ दिनों से लगातार की जा रही थी. पुलिस को आशंका है कि कोई तंत्र-मंत्र क्रिया में जुटा संगठन या लोग इस परिवार को मानसिक तौर पर पिछले कुछ दिनों से तैयार कर रहा होगा. क्राइस ब्रांच इस तरह के अन्य मामलों की भी स्टडी कर रही है, जिनमें लोगों ने सामूहिक रूप से मौत को गले लगाया है. 

यह भी पढ़ें : डियर जिंदगी: डिप्रेशन और आत्‍महत्‍या के विरुद्ध...जीवन संवाद

बुराड़ी में 11 मौतों का आया 'पाइप कनेक्शन', और भी गहराया रहस्य

रजिस्ट्रर में अंधविश्वास के पन्ने
पुलिस ने घटना स्थल से दो रजिस्टर बरामद किए हैं. इनमें से एक रजिस्टर के पन्ने पर 26 जून को लिखा गया था कि 30 जून को भगवान से मिलने जाना है और इस परिवार के लोगों ने 30 जून को ही सामूहिक रूप से आत्महत्या कर ली थी. इस रजिस्टर में वट पूजा यानी बरगद के पेड़ की पूजा का भी विशेष रूप से उल्लेख किया गया है. पुलिस सूत्र बताते हैं कि पन्नों में सुखी, समृद्ध और टिकाऊ जीवन के लिए बरगद के पेड़ की पूजा की बात कही गई है. 

पुलिस सूत्र इस बात की ओर इशारा करते हैं कि घर की एक दीवार पर 11 पाइप मिले हैं और इन्हीं पाइपों पर लटकर कर परिवार ने आत्महत्या की है. सभी शव इस तरह से लटके हुए थे, जो देखने में बरगद के पेड़ की झूलती हुई जटाओं (जड़ों) का आभास दे रहे थे.