हरियाणा में आज होगा मंत्रिमंडल का शपथ ग्रहण, जानिए कौन-कौन बन सकता है मंत्री

27 अक्टूबर दिवाली (Diwali) के दिन चंडीगढ़ में राजभवन में हुए समारोह मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) ने दूसरी बार प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली थी. वहीं, बीजेपी को सरकार बनाने के लिए समर्थन देने वाली जननायक जनता पार्टी (JJP) के विधायक दल के नेता दुष्‍यंत चौटाला (Dushyant Chautala) ​ने डिप्टी सीएम की शपथ ली थी.

हरियाणा में आज होगा मंत्रिमंडल का शपथ ग्रहण, जानिए कौन-कौन बन सकता है मंत्री

चंडीगढ़: हरियाणा में बीजेपी-जेजेपी सरकार में आज (14 नवंबर) को नए मंत्रियों के शपथ दिलाई जाएगी. आज सुबह 11 बजे राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) सरकार के मंत्रियों को शपथ दिलवाएंगे. बता दें कि अभी तक हरियाणा में मंत्रिमंडल नहीं बन सका है. हालांकि अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो सका है कि जेजेपी या बीजेपी से कितने मंत्री शपथ लेंगे और उन्हें कौन-कौन सा विभाग मिलेगा. लेकिन खबर है कि आज पूरा मंत्री मंडल नहीं बनेगा 7-8 मंत्री ही लेंगे शपथ. वहीं खट्टर सरकार के दूसरे कार्यकाल में मंत्री बनने वाले इन नामों की चर्चा है. 

ये हैं संभावित मंत्री

अंबाला कैंट से अनिल विज
जगाधरी से कंवरपाल गुर्जर
बवाल से डॉक्टर बनवारी लाल
नांगल चौधरी से अभय सिंह यादव
पलवल से दीपक मंगला
पानीपत ग्रामीण से महिपाल का नाम लगभग फाइनल
नारनौंद से रामकुमार गौतम
एक निर्दलीय पर चल रही चर्चा.

हरियाणा: कैप्टन अभिमन्यु को हराने वाले इस नेता को भी मिल सकती है मंत्रिमंडल में जगह
इस बीच कई संभावित चेहरों के मंत्रिमंडल में शामिल होने की चर्चाओं ने भी जोर पकड़ लिया है. एक ऐसे ही चेहरे हैं, जेजेपी की टिकट पर हिसार जिला के नारनौंद से चुनाव जीतने वाले रामकुमार गौतम. संभावना है कि उन्हें भी मंत्रिमंडल में शामिल किया जा सकता है. हालांकि महकमा कौन-सा रहेगा यह तो वक्त ही बताएगा.

आपको बता दें कि विधायक रामकुमार गौतम ने नारनौंद सीट से चुनाव लड़ते हुए हरियाणा के तत्कालीन वितमंत्री और बीजेपी के बड़े नेता कैप्टन अभिमन्यु को मात दी है. रामकुमार गौतम का कहना है कि पार्टी के मुखिया जो जिम्मेदारी देंगे उसे वो पूरी ईमानदारी से निभाकर हल्के के लोगों की सेवा करने का काम करेंगे. हालांकि मंत्री पद की लॉबिंग को लेकर रामकुमार गौतम ने साफ किया कि अभी तक उनको कोई सूचना नहीं दी गई है.

वहीं, दूसरी तरफ एक चर्चा यह भी चल रही है कि बीजेपी के एक पूर्व मंत्री रामकुमार गौतम को मंत्रिमंडल में शामिल किए जाने के खिलाफ हैं. इस सवाल पर रामकुमार गौतम ने कहा कि उन्हें इस बारे में कोई जानकारी नहीं है. उन्होंने कहा कि वो मंत्री पद को लेकर कोई लॉबिंग कर रहें. गौतम ने कहा कि पार्टी ने घर आकर टिकट दिया था और और वह चुनाव भी दुष्यन्त चौटाला की वजह से ही जीते हैं.

यह भी पढ़ेंः दुष्यंत हुए भावुक, बोले - पिता की मौजूदगी से मुझे ताकत मिलेगी

गौतम ने ज़ी न्यूज से बातचीत में कहा कि पिछली बार जब उन्होंने विधानसभा का चुनाव लड़ा था, तब पूरी ताकत लगा दी थी लेकिन उन्हें 35 हजार से भी कम वोट मिले. लेकिन इस बार उन्हें ऐसा लगा ही नहीं कि वह चुनाव लड़ रहे हैं. अपने एजेंडों के बारे में बोलते हुए जेजेपी नेता ने कहा कि हल्के में आज भी काफी काम करने की जरूरत है. बिजली, पानी और बेरोजगारी की समस्या काफी है. इनका समाधान करवाया जाएगा.

गौरतलब है कि 27 अक्टूबर दिवाली (Diwali) के दिन हरियाणा (Haryana) में फि‍र भारतीय जनता पार्टी (BJP) की सरकार बन गई थी.चंडीगढ़ में राजभवन में हुए समारोह मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) ने दूसरी बार प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली थी. वहीं, बीजेपी को सरकार बनाने के लिए समर्थन देने वाली जननायक जनता पार्टी (JJP) के विधायक दल के नेता दुष्‍यंत चौटाला (Dushyant Chautala) हरियाणा के उप मुख्‍यमंत्री के रूप में शपथ ली थी. शपथ ग्रहण समारोह के लिए दुष्यंत चौटाला के पिता अजय चौटाला, पंजाब के पूर्व सीएम और अकाली नेता प्रकाश सिंह बादल और उनके बेटे सुखबीर बादल और बीजेपी कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा भी पहुंचे थे. 

यह भी पढे़ं:-बेटा तो बाप के नाम से जाना जाएगा.. उसकी मेहनत है: अजय चौटाला

शपथ ग्रहण के बाद अजय चौटाला ने कहा ये सरकार पूरे पांच साल तक चलेगी और हरियाणा के विकास के रथ को आगे बढ़ाएगी.

यह भी पढ़ें-  बर्खास्त BSF कांस्टेबल तेज बहादुर ने जेजेपी छोड़ी, बोले- दुष्‍यंत ने हरियाणा के लोगों को धोखा दिया

बता दें कि हाल ही में संपन्न हुए हरियाणा विधानसभा चुनाव के नतीजों में किसी भी दल को पूर्ण बहुमत नहीं मिला था. बीजेपी 40 सीटों पर सिमट गई और कांग्रेस 31 सीटों तक ही पहुंच सकी. वहीं आईएनएलडी से अलग हुई जननायक जनता पार्टी (JJP) ने 10 सीटों पर जीत दर्ज की. गोपाल कांड़ा की पार्टी को 1 सीट और आईएनएलडी को 1 सीट मिली है. वहीं 7 सीटें अन्य के खाते में गई.