Breaking News
  • उत्तराखंड को पीएम नरेंद्र मोदी का तोहफा, 6 बड़े प्रोजेक्ट का उद्घाटन
  • IPL 2020: SRH vs DC Live Score Update: सनराइजर्स ने दिल्ली को 15 रनों से दी मात

दिल्लीः बिल्डर से 2 लाख रुपये रिश्वत लेते हुए पकड़ा गया साकेत थाने का SHO

सीबीआई के मुताबिक एसएचओ यूनिटेक कंपनी के पेरोल पर काम कर रहा था. जिसके एवज़ में यूनिटेक एसएचओ को 2 लाख रुपए हर महीने देती थी.

दिल्लीः बिल्डर से 2 लाख रुपये रिश्वत लेते हुए पकड़ा गया साकेत थाने का SHO
साकेत थाने के एसएचओ नीरज कुमार को सीबीआई ने किया गिरफ्तार

नई दिल्लीः सीबीआई ने मंगलवार दोपहर साकेत थाने पर रेड कर थाने के एसएचओ समेत यूनिटेक कंपनी के वकील के वकील नीरज वालिया को 2 लाख रुपये के साथ गिरफ्तार किया. सीबीआई के मुताबिक साकेत में यूनिटेक बिल्डर कंपनी का रजिस्टर्ड ऑफिस है. घर खरीदारों को जब समय से घर नहीं मिला तो 47 लोगों ने साकेत कोर्ट में बिल्डर के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर जांच करने की याचिका लगाई. साकेत कोर्ट ने सभी 47 मामलों को साकेत थाने में भेज कर एसएचओ से उस पर कार्रवाई करने को कहा, लेकिन एसएचओ उन सभी शिकायतों पर कुंडली मार कर बैठ गया.

सीबीआई के मुताबिक एसएचओ यूनिटेक कंपनी के पेरोल पर काम कर रहा था. जिसके एवज़ में यूनिटेक एसएचओ को 2 लाख रुपए हर महीने देती थी. इस बात की जानकारी सीबीआई को लगी तो उसने ट्रैप लगाकर एसएचओ और वकील को उस वक़्त गिरफ्तार किया जब यूनिटेक का वकील एसएचओ को 2 लाख की क़िस्त देने थाने में गया था. सीबीआई ने रेड डाल के दोनों को गिरफ्तार कर लिया.

इस मामले में यूनिटेक कंपनी समेत  कुल 9 आरोपियों का नाम है नीरज कुमार(गिरफ्तार SHO), रमेश चंद्रा( यूनिटेक कंपनी का फाउंडर), उपमा चंद्रा, संजय चंद्रा, अजय चंद्रा, श्रीमती  सीमा मांगा ,प्रदीप कुमार , संजय शर्मा ,नीरज वालिया (गिरफ्तार आरोपी ) और अज्ञात.

थाना साकेत के पास साकेत कोर्ट से 47 मामले ट्रांसफर किए गए थे. सीबीआई सूत्रों के मुताबिक कंपनी के पेरोल पर कुछ ओर पुलिसकर्मियों को रखे जाने की आशंका है. जिसमे एक इंस्पेक्टर संजय शर्मा भी है. फिलहाल सीबीआई कई स्थानों पर छापेमारी कर रही है.