मनीष सिसोदिया और योगेंद्र यादव के खिलाफ चार्जशीट, तिहाड़ जेल के बाहर किया था प्रदर्शन

मानहानि के मामले में मई, 2014 में अरविंद केजरीवाल को दो दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया था. 

मनीष सिसोदिया और योगेंद्र यादव के खिलाफ चार्जशीट, तिहाड़ जेल के बाहर किया था प्रदर्शन
AAP नेताओं ने मई 2014 में तिहाड़ जेल के बाहर प्रदर्शन किया था

नई दिल्ली : दिल्ली पुलिस ने दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और आम आदमी पार्टी के पूर्व नेता योगेंद्र यादव के खिलाफ 4 साल पहले के एक मामले में चार्जशीट दायर की है. पुलिस ने इस चार्जशीट में मनीष सिसोदिया समेत आप के 59 नेताओं और कार्यकर्ताओं के नाम दर्ज किए हैं. यह चार्जशीट सोमवार को मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट समर विशाल के सामने पेश की गई. 

दिल्ली पुलिस ने 2014 में आप नेताओं द्वारा तिहाड़ जेल के बाहर किए प्रदर्शन के मामले में यह चार्जशीट दायर की है. कोर्ट ने इस मामले पर 5 जुलाई को सुनवाई शुरू करेगी.  

बता दें कि मई, 2014 में बीजेपी नेता नितिन गडकरी द्वारा आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल के खिलाफ दायर मानहानि के एक मामले में केजरीवाल को दो दिन की न्यायिक हिरासत में लेकर तिहाड़ जेल भेजा गया था. केजरीवाल ने इस मामले में 10000 रुपये के बेल बॉण्ड भरने से इनकार करने किया था, तब उन्हें गिरफ्तार किया गया था.

अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी के खिलाफ आप के नेताओं ने तिहाड़ जेल के बाहर प्रदर्शन किया था. इस दौरान प्रदर्शनकारियों की पुलिस से झड़प भी हुई थी. पुलिस ने इस प्रदर्शन को गैरकानूनी ठहराया था. 

योगेन्द्र यादव, प्रशांत भूषण बनाया राजनीतिक दल ‘स्वराज इंडिया’

योगेंद्र यादव छोड़ चुके हैं AAP
जिस नेता के लिए योगेंद्र यादव ने तिहाड़ जेल के बाहर प्रदर्शन किया था, अब वे उस नेता और पार्टी का साथ छोड़ चुके हैं. यादव अब स्वराज इंडिया नाम की एक पार्टी बनाकर काम कर रहे हैं. पिछले साल दिल्ली नगर निगम चुनाव में योगेंद्र यादव की पार्टी स्वराज इंडिया ने चुनाव लड़ा था, हालांकि उन्हें कहीं से भी जीत नहीं मिली. यादव 2014 में आम आदमी पार्टी के टिकट पर गुरुग्राम सीट से लोकसभा का चुनाव लड़ा था. अप्रैल 2015 में आम आदमी पार्टी ने योगेंद्र यादव, प्रशांत भूषण समेत कई नेताओं को पार्टी विरोधि गतिविधियों में शामिल होने का आरोप लगाते हुए पार्टी से निकाल दिया था.