close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

हरियाणा चुनावों पर बोले CEC, अति संवेदनशील मतदान केन्द्रों पर कराई जाएगी वेब-कास्टिंग

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान सुनील अरोड़ा (Sunil Arora) ने कहा, "राजनीतिक दलों ने कुछ मुद्दे उठाए, जिसके मद्देनजर कई कदम लिए गए. विशेष रूप से अर्ध सैनिक बलों को तैनात किया जाएगा."

हरियाणा चुनावों पर बोले CEC, अति संवेदनशील मतदान केन्द्रों पर कराई जाएगी वेब-कास्टिंग
मुख्य चुनाव आयुक्त (Chief Election Commissioner) सुनील अरोड़ा ने गुरुवार को चंडीगढ़ में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की

चंडीगढ़: हरियाणा विधानसभा चुनावों (Haryana Assembly Elections 2019) के मद्देनजर मुख्य चुनाव आयुक्त (Chief Election Commissioner) सुनील अरोड़ा ने गुरुवार को चंडीगढ़ में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इस दौरान उन्होंने कहा कि मतदान के दौरान अति संवेदनशील मतदान केन्द्रों (polling booths) पर वेब-कास्टिंग (Web-casting) भी कराई जाएगी. प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान सुनील अरोड़ा (Sunil Arora) ने कहा, "राजनीतिक दलों ने कुछ मुद्दे उठाए, जिसके मद्देनजर कई कदम लिए गए. विशेष रूप से अर्ध सैनिक बलों को तैनात किया जाएगा."

निष्पक्ष चुनावों (Fair elections) के प्रति प्रतिबद्धता जताते हुए मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा, "संवेदनशील बूथ पर सीसीटीवी कैमरा (CCTV camera) लगाए जाएंगे." इसके साथ ही उन्होंने राज्य के लोगों से अपील की कि धर्म और जाति (Religion and caste) के नाम पर वोट मांगने वालों के बारे में चुनाव आयोग को जानकारी दें. उन्होंने आगे कहा कि जो निर्माण कार्य अभी भी चल रहे हैं उनको जारी रख जा सकता है.

देखें लाइव टीवी

पोलिंग बूथ (polling booth) की व्यवस्था के बारे में बात करते हुए मुख्य चुनाव आयुक्त (Chief Election Commissioner) ने कहा कि बूथ (Booth) पर बिजली, पानी और वीवीपैट (VVPAT) की व्यवस्था रहेगी. इसके साथ ही उन्होंने एक बार फिर दोहराया कि कलेक्टर्स की मीटिंग में साफ कहा गया है कि पक्षपात बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग नहीं होना चाहिए.

उन्होंने आगे कहा, "चुनाव खर्च को लेकर मिली जुली प्रतिक्रिया सामने आई. किसी ने खर्च ज्यादा बढ़ाने की मांग की तो किसी ने कम करने की अपील की है." मुख्य सूचना आयुक्त (Chief Election Commissioner)  ने कहा कि सोशल मीडिया (Social Media) को लेकर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) द्वारा वॉलंटरी कोड ऑफ एथिक्स फॉलो की जाएगी और फेक न्यूज (Fake News) पर रोक लगाई जाएगी.