close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अरुण जेटली की हालत नाजुक, हाल जानने गए कई नेता, AIIMS पहुंचे राज्‍यसभा सांसद सुभाष चंद्रा

अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट करते हुए कहा कि 'अरुण जेटली जी को देखने के लिए गया था. भगवान से प्रार्थना है कि वह जल्दी से ठीक हो जाएं और स्वस्थ्य रहें.'

अरुण जेटली की हालत नाजुक, हाल जानने गए कई नेता, AIIMS पहुंचे राज्‍यसभा सांसद सुभाष चंद्रा
केंद्रीय मंत्र‍ियों के अलावा राज्‍यसभा सांसद सुभाष चंद्रा भी अरुण जेटली का हाल जानने के लिए पहुंचे.

नई दिल्लीः पूर्व वित्तमंत्री अरुण जेटली की हालत अब भी बेहद नाजुक बनी हुई है, जिसके चलते देश भर में दुआओं का दौर जारी है. पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली पिछले 9 अगस्त से दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भर्ती हैं, जहां उन्हें लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया है. ऐसे में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल रविवार को अरुण जेटली का हालचाल जानने के लिए एम्स पहुंचे.

राज्‍यसभा सांसद सुभाष चंद्रा भी पूर्व वित्‍तमंत्री अरुण जेटली को देखने के लिए एम्‍स पहुंचे. इसके अलावा केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के अलावा अश्‍वि‍नी चौबे, ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया और बीजेपी संगठन महामंत्री वी सतीश भी जेटली का हाल जानने के लिए एम्‍स पहुंचे.

अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट करते हुए कहा कि 'अरुण जेटली जी को देखने के लिए गया था. भगवान से प्रार्थना है कि वह जल्दी से ठीक हो जाएं और स्वस्थ्य रहें.' बता दें सीएम केजरीवाल के अलावा राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत भी पूर्व वित्त मंत्री का हाल जानने एम्स पहुंचे थे. इसके अलावा अश्विनी चौबे, वी. सतीश, संगठन महामंत्री और वर्तमान वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण भी एम्स में जेटली से मिलने पहुंची थीं.

देखें वीडियो

लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली, हाल जानने AIIMS पहुंचे RSS प्रमुख मोहन भागवत

इसके अलावा शनिवार को दिनभर राजनीतिक दलों के नेताओं का आना-जाना लगा रहा. सूत्रों ने पूर्व वित्तमंत्री की हालत की जानकारी देते हुए बताया कि उन्हें एक्सट्रा-कॉर्पोरेशनल मेंब्रेन ऑक्सिजिनेशन (ईसीएमओ) में रखा गया है. बता दें ईसीएमओ में ऐसे मरीजों को रखा जाता है, जिनके फेफड़े और हृदय काम नहीं कर पाते. 

बिहार के सीएम नीतीश कुमार भी अरुण जेटली से मिलने पहुंचेंगे दिल्ली AIIMS

बता दें 9 अगस्त की सुबह 11 बजे अरुण जेटली को एम्स में भर्ती किया गया था. तब उन्हें सांस लेने की तकलीफ थी. उसके बाद से जेटली वेंटिलेटर पर बने हुए हैं. हालांकि 12 अगस्त और 13 अगस्त को वेंटिलेटर कुछ देर के लिए हटाया गया था, लेकिन बहुत सुधार नहीं हुआ और वेंटिलेटर फिर से लगाना पड़ा.