रणदीप सुरजेवाला को दिल्ली और हरियाणा दोनों जगह मिलेंगे सुरक्षाकर्मी

जस्टिस रैना ने सुनवाई के दौरान टिप्पणी करते हुए कहा कि अगर सुरजेवाला को कुछ होता है तो इसकी जिम्मेदारी कौन लेगा. कोर्ट ने कहा जब पंजाब के पुर्व डीजीपी तक को सुरक्षा दे रखी है तो फिर सुरजेवाला को क्यों नहीं दी जा सकती. दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद फिलहाल कोर्ट ने रणदीप सुरजेवाला की याचिका को एडमिट कर लिया है.

रणदीप सुरजेवाला को दिल्ली और हरियाणा दोनों जगह मिलेंगे सुरक्षाकर्मी
कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला

चंडीगढ़: कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला की ओर से अपनी सुरक्षा को लेकर पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट में दायर याचिका को हाईकोर्ट ने एडमीट कर लिया है. हरियाणा सरकार ने सुरक्षा में कटौती की बात कही थी. सुरजेवाला को दिल्ली पुलिस के 11 और हरियाणा आने पर इतने ही पुलिसकर्मी सुरक्षा में मिलते हैं. हरियाणा सरकार का कहना है कि उन्हें इतनी सुरक्षा की जरूरत नहीं है. जबकि सुरजेवाला का कहना था कि उन्हें जान का खतरा है, जिसको लेकर उन्होंने कोर्ट में सील्ड रिपोर्ट भी दाखिल की थी.

जस्टिस रैना ने सुनवाई के दौरान टिप्पणी करते हुए कहा कि अगर सुरजेवाला को कुछ होता है तो इसकी जिम्मेदारी कौन लेगा. कोर्ट ने कहा जब पंजाब के पुर्व डीजीपी तक को सुरक्षा दे रखी है तो फिर सुरजेवाला को क्यों नहीं दी जा सकती. दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद फिलहाल कोर्ट ने रणदीप सुरजेवाला की याचिका को एडमिट कर लिया है.

मामले में हरियाणा सरकार का आरोप है कि दिल्ली पुलिस और हरियाणा पुलिस मिलाकर सुरजेवाला को 22 सुरक्षाकर्मी मिले हैं जो गलत है. केंद्र सरकार ने कहा कि प्रावधान यह है कि जिसको सुरक्षा दी जाती है, वह जिस राज्य में मौजूद होता है उसे वहां की पुलिस ही सुरक्षा देती है. सुरजेवाला ज्यादातर दिल्ली में रहते हैं और दिल्ली पुलिस ही उन्हें सुरक्षा दे रही है. यह किया जा सकता है कि जब सुरजेवाला हरियाणा आए तो दिल्ली पुलिस हरियाणा पुलिस को सूचित कर दे और हरियाणा पुलिस हरियाणा में प्रवेश करते ही उन्हें वाई प्लस श्रेणी की सुरक्षा मुहैया करवा दें.