close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

दिल्ली: आम्रपाली ग्रुप के 2 अधिकारियों को कोर्ट ने 5 दिन की पुलिस हिरासत में भेजा

पुलिस की जांच में इन दोनों की भूमिका की पुष्टि हुई कि दोनों ने फ़र्ज़ी कंपनी बनाने के बाद ग्राहकों के पैसों को डाइवर्ट किया था.

दिल्ली: आम्रपाली ग्रुप के 2 अधिकारियों को कोर्ट ने 5 दिन की पुलिस हिरासत में भेजा
पुलिस ने दोनों को कोर्ट में पेश कर इनको पांच दिन की रिमांड पर ले लिया है.

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने हजारों घर खरीदारों को ठगने वाली कंपनी आम्रपाली ग्रुप के दो बड़े अधिकारियों को गिरफ्तार किया है. इन दोनों पर आरोप है कि इन्होंने कंपनी में रहते हुए फर्जी कंपनी बनाकर मोटी रकम को दूसरी कंपनियों में डाइवर्ट करने में अहम भूमिका निभाई थी. पुलिस ने कंपनी के सीएफओ यानी चीफ फाइनेंसियल ऑफिसर चंदर प्रकाश वाधवा और ऑडिटर अनिल मित्तल को 29 जुलाई की शाम को गिरफ्तार किया है.

पुलिस की जांच में इन दोनों की भूमिका की पुष्टि हुई कि दोनों ने फ़र्ज़ी कंपनी बनाने के बाद कंपनी के डायरेक्टरों के जानकारों, रिश्तेदारों और कंपनी के लोगों के नाम पर ग्राहकों के पैसों को डाइवर्ट किया था. पुलिस ने दोनों को कोर्ट में पेश कर इनको पांच दिन की रिमांड पर ले लिया है. इससे पहले भी आर्थिक अपराध शाखा ने आम्रपाली ग्रुप के अनिल शर्मा समेत दो डाइरेक्टरों को गिरफ्तार किया था. जो अभी भी जेल में है.

सुप्रीम कोर्ट ने भी इस मामले में इसको आसमान की ऊंचाई तक का फ़्रॉड घोषित कर घर के खरीदारों के पक्ष में फैसला सुनाते हुए पीएमएलए के तहत केस दर्ज कर उसकी जांच करने के आदेश ईडी को दिया था. वहीं नोएडा-ग्रेटर नोएडा के आधे अधूरे प्रोजेक्ट को पूरा करने के लिए एनबीसीसी को बोला था.