close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

दिल्ली-NCR को 2021 तक कार्निलय अंधता मुक्त बनाएगी दधीचि देहदान समिति

दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र (Delhi NCR Region) को कॉर्नियल अन्धता मुक्त बनाने के लिए दधीचि देहदान समिति ने 2021 तक का लक्ष्य रखा है. 

दिल्ली-NCR को 2021 तक कार्निलय अंधता मुक्त बनाएगी दधीचि देहदान समिति
कार्यक्रम के दौरान मौजूद वक्ता.

नई दिल्ली: दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र (Delhi NCR Region) को कॉर्नियल अन्धता मुक्त बनाने के लिए दधीचि देहदान समिति ने 2021 तक का लक्ष्य रखा है. दधीचि देहदान समिति के संरक्षक और संस्थापक आलोक कुमार ने राजधानी दिल्ली के हरियाणा भवन(Haryana Bhawan) में दिल्ली जर्नलिस्ट एसोसिएशन (Delhi Journalist Association) के एक कार्यक्रम में यह जानकारी दी.

कुमार ने बताया कि दिल्ली में दो बड़े अस्पताल एम्स (AIIMS) और गुरुनानक नेत्र चिकित्सालय में कॉर्निया अंधता का इलाज नेत्रदान के माध्यम से किया जाता है. यहां वर्तमान में प्रतीक्षा सूची क्रमश: 2 हजार और 1 हजार है. इस लक्ष्य को पाने के लिए दधीचि देहदान समिति व्यापक स्तर पर जनजागरण अभियान चलाने जा रहा है.

'देहदान- वर्तमान समय की आवश्यकता' विषय पर आयोजित संवाद कार्यक्रम में मीडिया संस्थानों के पत्रकारों के समक्ष आलोक कुमार ने बताया कि भारतीय परम्पराओं और मान्यताओं में ‘सर्वे भवन्तु सुखिन:, सर्वे सन्तु निरामया’ की अवधारणा बताती है कि आज हमारे समाज को स्वस्थ रहने के लिए उसी अवधारणा पर चलने की नितांत आवश्यकता है, जिसका एकमात्र समाधान है अंगदान और देहदान है.

कुमार ने कहा कि वर्तमान समय में मेडिकल कॉलेज और अस्पतालों में देहदान व अंगदान की समुचित और सुचारू व्यवस्था होनी चाहिए, जिससे सामान्य जन, स्वयं की प्रेरणा से अंगदान व देहदान का संकल्प ले सकें.

इस कार्यक्रम में समिति के महामंत्री कमल खुराना और उपाध्यक्ष विशाल चड्ढा उपस्थित थे. दिल्ली जर्नलिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष अनुराग पुनेठा, महासचिव सचिन बुधौलिया और उपाध्यक्ष अतुल गंगवार ने कार्यक्रम का संचालन किया.