एक्शन मोड में हैं हिसार की डीसी प्रियंका, इन लोगों पर गिर सकती है गाज

 डॉ. प्रियंका सोनी ने कहा कि सरकार के महत्वाकांक्षी अभियानों में लापरवाही करना बेहद गंभीर विषय है.

एक्शन मोड में हैं हिसार की डीसी प्रियंका, इन लोगों पर गिर सकती है गाज
हिसार में पटवारियों की बैठक लेते अधिकारी.

हिसार: हरियाणा सरकार ने किसान हित में अनेकों योजनाएं शुरू की हैं, इसे लेकर 'मेरी फसल मेरा ब्यौरा' के साथ-साथ ई-गिरदावरी और जमाबंदी जैसे काम भी हो रहे हैं.  बुधवार को राजस्व विभाग के अधिकारियों-कर्मचारियों के साथ बैठक में डीसी डॉ. प्रियंका सोनी ने कहा कि सरकार के ऐसे महत्वाकांक्षी अभियानों में लापरवाही करना बेहद गंभीर विषय है. बहुत से पटवारी तो ऐसे है जिनका ई-गिरदावरी, जमाबंदी और 'मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना' के तहत प्रदर्शन काफी निराशाजनक है. उपायुक्त ने जिला राजस्व अधिकारी को भी निर्देश दिए कि वे पटवारियों की जो भी जरूरतें हैं उन्हें जल्द से जल्द पूरा करें ताकि संसाधनों के अभाव में उनका कार्य प्रभावित ना हो.

बैठक में उपायुक्त को अवगत करवाया गया कि लगभग 15 पटवारियों के पास टैब नहीं है. इस पर उन्होंने अविलंब टैब की व्यवस्था करने के निर्देश दिए. डॉ. प्रियंका सोनी ने 'मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना' तथा ई-गिरीदावरी कार्य में शानदार प्रदर्शन करने वाले पटवारियों की पीठ भी थपथपाई. किसानों के खेतों में कौन सी फसल है, और उसकी सरकार समय आने पर व्यवस्था कर पाएं.

इसके साथ ही किसानों को सब्सिडी सीधे उनके खातों में आएं. इन तमाम पहलुओं का डेटा जुटाने के लिए हरियाणा में 'मेरी फसल मेरा ब्यौरा' का पंजीकरण होता है. इस बार भी वैसा ही हो रहा है. लेकिन राजस्व विभाग की उम्मीदों के अनुरूप कई पटवारी वैसे काम नहीं कर पाएं जैसा होना चाहिए था. ऐसे में इन पटवारियों पर जिला प्रशासन अब शिकंजा कस रहा है.