close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

एम्‍स में लगी आग 6 घंटे बाद आई काबू में, टीचिंग ब्‍लॉक की मशीन और उपकरण खाक

आग लगने के कारण इमरजेंसी लैब को बंद कर दिया गया. इस घटना के बाद मौके पर बड़ी संख्‍या में फायर ब्रिगेड की गाड़‍ियां पहुंच गई हैं. दूसरी मंज‍िल पर लगी आग पांचवीं मंजिल पर पहुंच गई.

एम्‍स में लगी आग 6 घंटे बाद आई काबू में, टीचिंग ब्‍लॉक की मशीन और उपकरण खाक
photo : ANI

नई दि‍ल्‍ली: अखि‍ल भारतीय आयुर्वि‍ज्ञान संस्‍थान (एम्‍स) में शनिवार शाम को पहली और दूसरी मंज‍िल पर आग पीसी ब्‍लॉक में लग गई. ये आग इमरजेंसी वॉर्ड के पास में लगी. आग लगने के कारण इमरजेंसी लैब को बंद कर दिया गया. आग लगने की इस घटना के बाद मौके पर बड़ी संख्‍या में फायर ब्रिगेड की गाड़‍ियां पहुंच गई.

इमरजेंसी वॉर्ड से मरीजों को शिफ्ट कर दिया गया है. इसके बाद वॉर्ड को बंद कर दिया गया. इस भीषण आग पर काबू पाने के लिए 40 गाड़ि‍यों ने मशक्‍कत की. इस घटना में किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है.  दूसरी मंजिल से आग बढ़कर पांचवीं पर पहुंच गई है. करीब 6 घंटे बाद भी आग पर काबू पाया गया. एम्‍स ने किसी भी तरह की जानकारी के लिए हेल्‍पलाइन नंबर 011-26593308 जारी किया है. इधर, एनडीआरएफ की दो टीमें एम्‍स पहुंच गई.

एम्स के टीचिंग ब्लॉक आग लगी. इस ब्‍लॉक में ओपीडी और न्यूरोलॉजी ब्लॉक भी हैं. ओपीडी ब्लॉक में ज्यादा मरीज नहीं थे, लेकिन उसके साथ वाले ब्लॉक से 13 मरीजों को रेस्क्यू किया है और 7 मरीज वेंटिलेटर पर भी थे, जिन्हें शिफ्ट किया गया. वेंटिलेशन शाफ़्ट की वजह से फायर अंदर ही अंदर ऊपर की तरफ चली गई. गंभीर कैटिगिरी की आग है. इस आग के कारण एम्‍स में बहुत नुकसान हुआ है, क्‍योंकि टीचिंग ब्‍लॉक में कई महंगी मशीनें और एक्‍युपमेंट रखे थे.

अभी 2nd floor पर काबू पाया गया. इस बिल्डिंग में लैब है और मशीन ज़्यादा है तो हर मशीन धीरे धीरे आग पकड़ रही है. फायर ब्रिगेड कर्मी ने बताया कि अगर बाहर से पानी डालकर आग नहीं बुझती तो हर फ्लोर को क्लियर करते हुए ऊपर की तरफ जा रहे हैं. दूसरी मंजिल से आग बढ़कर पांचवीं पर पहुंच गई है. Old private ward ले जाया गया था मरीजो को इमरजेंसी के विंग से निकाल कर.

कहा जा रहा है कि शॉर्ट सर्क‍िट के कारण ये आग लगी है. हालांकि अभी इस बारे में आध‍िकार‍िक तौर पर कुछ नहीं बताया गया है. अधिकारियों ने बताया कि शाम 4.50 के पास उन्हें घटना के बारे में फोन आया. एक अग्निशमन अधिकारी ने कहा, "आग बुझाने के लिए अग्निशमन की 34 गाड़ियों को लगाया गया. आग पर काबू पा लिया गया है और स्थल को ठंढ़ा किया जा रहा है."

अस्पताल से मरीजों को कहीं और शिफ्ट किया जा रहा है जबकि इमरजेंसी लैब, सुपरस्पेशिएलिटी ओपीडी वार्ड तथा एबीआई को बंद कर दिया गया है. मरीजों को एम्‍स के इमरजेंसी से सफदरजंग अस्‍पताल में शिफ्ट कर दिया गया है.