close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

दिल्ली: आनंद विहार इलाके में दीपावली मेले के दौरान टूटा झूला, 14 लोग घायल

घायलों को पास के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उनका इलाज चल रहा है.

दिल्ली: आनंद विहार इलाके में दीपावली मेले के दौरान टूटा झूला, 14 लोग घायल
फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है.

 

नई दिल्ली: दिल्ली के आनंद विहार इलाके में ज्योति चैरिटेबल ट्रस्ट स्कूल में शुक्रवार शाम दीपावली मेले के दौरान झूला गिरने से करीब 14 लोग घायल हो गए. घायलों को पास के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उनका इलाज चल रहा है. फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है.

पुलिस ने बताया कि आनंद विहार के एजीसीआर एंक्लेव में अमर ज्योति चैरिटेबल ट्रस्ट स्कूल है जिसमें दिव्यांग बच्चे पढ़ते हैं. ट्रस्ट की तरफ से स्कूल में शुक्रवार को दीपावली मेले का का आयोजन किया गया था जिसमें शॉपिंग स्टॉल के साथ झूला भी लगा हुआ था. मेले में स्कूल के बच्चों के साथ उनके अभिभावक भी पहुंचे हुए थे. बच्चे और अभिभावक शाम तक मेले का लुत्फ उठाते रहे, लेकिन देर शाम करीब 8 बजे अचानक गिर गया..इस दौरान झूले पर बैठे और उसके आसपास मौजूद करीब 14 लोग घायल हो गए. सभी घायलों को पास के पुष्पांजलि अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उनका उपचार चल रहा है..घायलों में सब बड़ी उम्र के शामिल हैं. 

मेले में चीख पुकार मच गई
झूला गिरते ही मेले में चीख पुकार मच गई. लोग रोने बिलखने लगे. वहीं कुछ लोग इधर-उधर भागने लगे. शोर सुनकर आसपास के लोगों की भीड़ जमा हो गई. लोग बचाव में लग गए. घायलों को अस्पताल के एंबुलेंस और निजी गाड़ियों से अस्पताल पहुंचाया गया. हालांकि स्कूल और लोगों की तरफ से बाद में पुलिस को सूचना दी गई. 

पेड़ और टीनशेड की वजह से बड़ा हादसा टला
जानकारी के अनुसार पहले पेड़ पर गिरा, इसके बाद वह स्कूल की टीनशेड पर अटका और फिर खड़ी एक कार पर गिर गया. इसके चलते जमीन पर गिरने की रफ्तार कम हो गई और लोगों को कम चोटें लगी. लोगों को कहना है कि अगर झूला सीधे जमीन पर गिरता तो लोगों को गंभीर चोटे लगती और बड़ा हादसा हो सकता था.

बच्चे वाले झूले पर बड़े बैठे थे
मौके पर मौजूद लोगों ने बताया कि मेले में बच्चों वाला झूला लगा हुआ था, लेकिन उस पर बच्चों के अभिभावक बैठ गए. इसके चलते उस पर दबाव बढ़ गया..साथ ही लोगों को यह भी मानना है कि शुक्रवार देर शाम तेज हवा चल रही थी.. इसके चलते हवा का दबाव बढ़ने पर झूला नीचे गिर गया..हालाकि पुलिस मामले की जांच कर रही है..

डीसीपी ने बताया की चैरिटेबल ट्रस्ट की तरफ से आंतरिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया था, इसमें बाहरी लोग शामिल नहीं है.. फिलहाल मामले की जांच की जा रही है, जांच के बाद सब कुछ साफ होगा.