ट्रक में धान के बीच छुपाकर ला रहे थे एक करोड़ का गांजा, दो गिरफ्तार

दिल्ली क्राइम ब्रांच ने ट्रक में धान के बीच गांजा छुपाकर दिल्ली में महंगे दामों पर बेचकर युवाओं की रगों में नशा घोलने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया. 

ट्रक में धान के बीच छुपाकर ला रहे थे एक करोड़ का गांजा, दो गिरफ्तार
दोनों आरोपी उत्तर प्रदेश के प्रयागराज जिले के रहने वाले हैं.

नई दिल्ली: दिल्ली क्राइम ब्रांच ने ट्रक में धान के बीच गांजा छुपाकर दिल्ली में महंगे दामों पर बेचकर युवाओं की रगों में नशा घोलने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया. क्राइम ब्रांच ने दो तस्करों को धर दबोचा. इनकी पहचान सोनेलाल उर्फ सोनू (28) और राजू पंडित (30) के तौर पर हुई है. दोनों उत्तर प्रदेश के प्रयागराज जिले के रहने वाले हैं. ये दोनों दिल्ली में अब तक 1000 किलो गांजा खपा चुके हैं. इनके कब्जे से 280 किलो गांजा बरामद किया गया है जिसकी अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमत एक करोड़ रुपये बताई जा रही है. 

क्राइम ब्रांच के डीसीपी डॉ. जी. राम गोपाल नाइक ने बताया कि क्राइम ब्रांच की टीम को इनपुट मिला था कि गांजा तस्कर सोनेलाल गांजे की खेप के साथ गाजीपुर के पेपर मार्केट के पास आने वाला है. खबर पुख्ता कर इंस्पेक्टर शिव दर्शन की टीम ने तीन दिसंबर को ट्रक में आए सोनेलाल और राजू पंडित को धर दबोचा. बाद में उनके ट्रक की तलाशी ली गई तो उससे धान के बीच प्लास्टिक के ड्रम में छुपाए गए 280 किलो गांजा बरामद हुआ.

ये भी देखें: 

पूछताछ में सोने लाल ने बताया कि वह ट्रक ड्राइवर है. गलत संगत में पड़कर रुपये के लिए वह मादक पदार्थ की तस्करी करने लगा था. वह ट्रक में अलग-अलग सामान के बीच छुपाकर तस्करी का माल दिल्ली लेकर आता था जबकि राजू ट्रक का क्लीनर है. फिलहाल पुलिस दोनों आरोपियों से पूछताछ कर रही है.