close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

दिल्लीः नौकरी के लिए आया था फोन, अगले दिन नाले में मिली दो सगी बहनों की लाश

पुलिस को एक लड़की के हाथ में एक टैटू दिखा जिसमें लकी लिखा हुआ था. उसी टैटू के जरिये दोनों लड़कियों की 24 सितम्बर को पहचान हो गई. 

दिल्लीः नौकरी के लिए आया था फोन, अगले दिन नाले में मिली दो सगी बहनों की लाश
मृतक रुकसाना की मां शबनम के मुताबिक उनकी बड़ी बेटी रुकसाना ने 2 साल पहले एक दूसरे समुदाय के लड़के लकी से प्रेम विवाह किया था

नई दिल्लीः बाहरी दिल्ली के अलीपुर इलाके में एक नाले से 23 सितम्बर की शाम दो लड़कियों के शव क्षत विक्षत हालात में बरामद हुए,पुलिस को एक लड़की के हाथ में एक टैटू दिखा जिसमें लकी लिखा हुआ था. उसी टैटू के जरिये दोनों लड़कियों की 24 सितम्बर को पहचान हो गई. खोजबीन के बाद पता चला कि दोनों लड़किया दिल्ली के सीलमपुर इलाके की रहने वाली थीं. ये दोनों सगी बहने 22 सितंबर से गायब थीं. बड़ी बहन रुकसाना 21 साल की थी और छोटी नबीला 19 साल की थी. लड़कियों की मां शबनम के मुताबिक वो अपने पति और बच्चों के साथ सीलमपुर इलाके में रह रही है. उसके पति ई रिक्शा चलाते हैं.

शबनम का कहना है कि 19 सितम्बर को शाम को उनकी दोनों बेटियां घर से ये कहकर निकलीं की किसी ने उनको नौकरी देने के लिए आईएसबीटी बस अड्डे बुलाया है उसके बाद शाम 5:40 बजे छोटी बेटी ने फोन पर बताया कि वो किसी कार में बैठ गयी हैं और मॉडल टाउन जा रहीं है. लेकिन उसके बाद से ही उनका फ़ोन बन्द हो गया,घरवालों ने बेटियों की गुमशुदगी की शिकायत सीलमपुर थाने में दी.

शबनम के मुताबिक उनकी बड़ी बेटी रुकसाना ने 2 साल पहले एक दूसरे समुदाय के लड़के लकी से प्रेम विवाह किया था,लेकिन वो शादी के बाद से ही उसे तंग करने लगा. यहां तक की वह रुकसाना की बेटी को भी बेचने की कोशिश कर रहा था. इसके बाद रुकसाना अपनी बेटी के साथ अपने मां बाप के घर आ गयी और दूसरी शादी की तैयारी कर रही थी,लेकिन लकी उसे परेशान करता रहा. शबनम (रुकसाना की मां) का कहना है कि लकी उससे कहता था कि तू मेरी नहीं तो किसी की नहीं.

शबनम का कहना है कि उसे पूरा शक है कि लकी ने ही उसकी हत्या की है. फिलहाल पुलिस का कहना है कि शव इतने क्षत विक्षत हैं कि उनमें कोई बाहरी चोट दिखाई नहीं दे रही.पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत की वजह साफ हो पाएगी.