ओवरचार्जिंग पर दिल्ली सरकार की कार्रवाई, विभाग ने छापेमारी कर लगाया 1 लाख का जुर्माना

दिल्ली (Delhi) के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता मामलों के मंत्री इमरान हुसैन के निर्देश पर लीगल मेट्रोलॉजी विभाग ने पैक्ड समान पर प्रदर्शित कीमतों में हेरफेर करने और ओवर चार्जिंग करने वाले दुकानदारों पर कार्रवाई की है.

ओवरचार्जिंग पर दिल्ली सरकार की कार्रवाई, विभाग ने छापेमारी कर लगाया 1 लाख का जुर्माना
फाइल फोटो

नई दिल्ली: दिल्ली (Delhi) के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता मामलों के मंत्री इमरान हुसैन के निर्देश पर लीगल मेट्रोलॉजी विभाग ने पैक्ड समान पर प्रदर्शित कीमतों में हेरफेर करने और ओवर चार्जिंग करने वाले दुकानदारों पर कार्रवाई की है. विभाग ने दुकानदार और तीन निर्माता कंपनियों पर 1 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है. कोरोना वायरस के प्रकोप और लॉक डाउन की वजह से थोक या फुटकर बिक्रेता ओवर चार्जिंग कर उपभोक्ताओं से अनुचित लाभ न उठा सकें इसके लिए ये कार्रवाई की गई है. 

लगातार आवश्यक वस्तुओं की बिक्री के संबंध में खुदरा विक्रेताओं, दुकानदारों, केमिस्टों, निर्माताओं, व्यापारियों आदि द्वारा पैकेज्ड कमोडिटी रूल्स (पीसीआर) के उल्लंघन की शिकायत मिल रही थी. जिसपर कार्रवाई करने के लिए मंत्री इमरान हुसैन ने एक टीम का गठन किया था. जांच के दौरान रूप नगर इलाके में दिल्ली मिल्क स्कीम स्टॉल चलाने वाले एक खुदरा विक्रेता ऐसे ही गड़बड़ झाला करते हुए विभाग की पकड़ में आ गया. जांच टीम ने पाया कि एक पैक्ड आइटम पर MRP के साथ छेड़छाड़ की गई थी और इसे अवैध रूप से ज्यादा पैसों में बेचा जा रहा था. छापेमारी के दौरान तीन उत्पादन करने वाली कंपनियों पर कुल 1 लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया है.

लॉकडाउन के मद्देनजर खाद्य  मंत्री ने विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों को प्रतिदिन फील्ड स्टाफ के कामकाज की समीक्षा करने का निर्देश दिया. उन्होंने कड़ी हिदायत देते हुए कहा कि कोरोना वायरस के कारण पैदा हुई आपदा का कोई केमिस्ट या व्यापारी अनुचित रूप से लाभ ना उठा सके. उन्होंने कहा कि यदि  कोई भी केमिस्ट, खुदरा विक्रेता, व्यापारियों आदि इसका उलंघन करता पाया जाता है तो उसके विरूद्ध सख़्त कानूनी कार्यवाही की जाये.

ये भी पढ़ें:- Ramayan को कहा ‘communal’ तो Arun Govil ने दिया मुंहतोड़ जवाब!