सीट के लिए आईटीओ स्टेशन तक पहुंच जाते हैं यात्री, चढ़ने वाले यात्रियों को खासी दिक्कत

अगर आप फरीदाबाद जाने के लिए आईटीओ स्टेशन पर मेट्रो में सवार होते हैं तो शायद आपको खड़े होकर ही सफर करना पड़े, क्योंकि इसमें से कई यात्री मेट्रो को नुकसान पहुंचाते हुए मंडी हाउस जैसे पहले वाले स्टेशनों से चढकर लौटती यात्रा के लिए पहले से ही सीट पर कब्जा जमा लेते है।

सीट के लिए आईटीओ स्टेशन तक पहुंच जाते हैं यात्री, चढ़ने वाले यात्रियों को खासी दिक्कत

नयी दिल्ली: अगर आप फरीदाबाद जाने के लिए आईटीओ स्टेशन पर मेट्रो में सवार होते हैं तो शायद आपको खड़े होकर ही सफर करना पड़े, क्योंकि इसमें से कई यात्री मेट्रो को नुकसान पहुंचाते हुए मंडी हाउस जैसे पहले वाले स्टेशनों से चढकर लौटती यात्रा के लिए पहले से ही सीट पर कब्जा जमा लेते है।

आईटीओ स्टेशन से जाने वाली मेट्रो में अधिक भीड़ की वजह यह है कि यात्री मंडी हाउस स्टेशन पर नही उतरते और आईटीओ तक जाते हैं ताकि उनको बैठने के लिए सीट मिल जाए।

इस पर अंकुश लगाने के लिए दिल्ली मेट्रो रेल निगम :डीएमआरसी: ने शुरू में 200 रूपये के जुर्माने का ऐलान किया। परंतु नियम का उल्लंघन का करने वालों पर निगरानी रखना मुश्किल हो गया और इस चलन को रोका नहीं जा सका। परेशानी का सामना कर रहे लोगों ने इसकी शिकायत की।

मार्केटिंग एक्जक्यूटिव के तौर पर करने वाली तान्या शर्मा का कहना है, ‘आईटीओ से ट्रेन पकड़ने वाले ज्यादातर लोग आफिस जाने वाले होते हैं। पता चलता है वहां आकर रूकने वाली ट्रेन से लोग बाहर ही नहीं निकलते और चढ़ने वाले यात्रियों को जगह नहीं मिलती। बहुत खराब स्थिति बन गई है।’ इस बारे में पूछे जाने पर डीएमआरसी के एक प्रवक्ता ने कहा, ‘मेट्रो अभियान चलाती है और ऐसे मुद्दों पर नजर रखती है।’