MTNL का अधिकारी ठक-ठक गैंग का शिकार, ज़िंदगी भर की मेहनत ले उड़े बदमाश

पीड़ित ने इसकी ई-एफआईआर दर्ज कराई है. जानकारी के मुताबिक पीड़ित राकेश कुमार शर्मा परिवार के साथ वेस्ट दिल्ली में रहते हैं और पांडव नगर शादीपुर में महानगर टेलीफोन निगम के उप प्रबंधक के पद पर तैनात है. 

MTNL का अधिकारी ठक-ठक गैंग का शिकार, ज़िंदगी भर की मेहनत ले उड़े बदमाश

नई दिल्ली: दिल्ली के रंजीत नगर इलाके के पांडव नगर में स्कूटी सवार बदमाशों (ठक-ठक गैंग) ने महानगर टेलीफोन निगम के उप प्रबंधक की कार पर पत्थर मारकर उनकी कार से लैपटॉप पर हाथ साफ कर दिया. बदमाश लैपटॉप के साथ तीन हार्ड डिक्स और लगभग 20 पेन ड्राइव लेकर फरार हो गए. इसमें कुछ जरूरी कागजात भी थे जिसमें उनकी जीवन भर की कमाई थी. पीड़ित राकेश शर्मा महानगर टेलीफोन नगर निगम में उप प्रबंधक के अलावा एक अच्छे राइटर भी हैं. उस लैपटॉप में कंपटीशन की 6 वैदिक मैथमेटिक्स की बुक का डाटा था जो उन्होंने खुद से लिखी थी और कई सौ बुकों का डिजिटल डाटा मौजूद था जो कि उनके पूरे जीवन भर की मेहनत थी.

पीड़ित ने इसकी ई-एफआईआर दर्ज कराई है. जानकारी के मुताबिक पीड़ित राकेश कुमार शर्मा परिवार के साथ वेस्ट दिल्ली में रहते हैं और पांडव नगर शादीपुर में महानगर टेलीफोन निगम के उप प्रबंधक के पद पर है. 20 नवम्बर की शाम के समय वह अपनी ड्यूटी के बाद शिफ्ट डिजायर कार से घर जा रहे थे. ऑफिस के गेट के पास वह फोन पर किसी से बात करने लगे तभी अचानक एक तेज धमाका हुआ और वह घबरा गए वह कुछ समझ पाते कि उनके पीछे की साइड का शीशा टूट गया.

जब तक वह कार से बाहर निकलते स्कूटी सवार बदमाश कार में रखा लैपटॉप हार्ड डिक्स और पेनड्राइव लेकर रफूचक्कर हो गए. बदमाशों ने स्कूटी अपनी स्टार्ट कर रखी थी.राकेश ने उनका पीछा भी किया. लेकिन बदमाश हाथ नहीं आए राकेश ने बताया कि उन्होंने 6 वैदिक मैथमेटिक्स की किताबें लिखी हैं. इसके अलाव कई बुकों का डिजिटल डाटा उसके अंदर मौजूद था. जो कि उनकी 20 से 25 साल की मेहनत थी.वह पल भर में गायब हो गई.

ये वीडियो भी देखें: