close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

दिल्ली पुलिस ने किया दो लुटेरों को गिरफ्तार, कई वारदातों में रहे हैं शामिल

इन बदमाशों की पहचान नार्थ ईस्ट दिल्ली के स्पेशल स्टाफ की टीम को हुई जब निजामुद्दीन इलाके में इन बदमाशों ने लूट की एक वारदात को 2 दिन पहले अंजाम दिया था. 

दिल्ली पुलिस ने किया दो लुटेरों को गिरफ्तार, कई वारदातों में रहे हैं शामिल
ये लुटेरे लूटपाट के लिए बाइक छीनते थे और उसी बाइक से वारदात को आधी रात में अंजाम देते थे.

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस ने लुटेरों के एक ऐसे गैंग को गिरफ्तार किया है, जो टोपी पहनकर वारदात को अंजाम देता है. इन्होंने दिल्ली एनसीआर के आसपास 100 से ज्यादा लूट की वारदातों को अंजाम दिया है. इन बदमाशों ने दिल्ली में एक ही रात में 8 लूट की वारदातों को अंजाम दिया था. एक दिन पहले निजामुद्दीन इलाके में हुई लूट की वारदात के सीसीटीवी फुटेज को देखकर इन बदमाशों की पहचान हुई. एक बदमाश का नाम सफान उर्फ असान है, जो मुरादनगर का रहने वाला है. जबकि दूसरे का नाम चांद है, जो बिजनौर का रहने वाला है.

दिल्ली पुलिस की गिरफ्त में खड़े इन दोनों लुटेरों को आप भले ही साधारण लुटेरे समझ रहे हों लेकिन जिस टीम की गिरफ्त में ये खड़े हैं यही पुलिस टीम इन्हें इसी साल 2 बार गिरफ्तार कर चुकी है. लुटेरों ने जब जेल से छूटने के बाद फिर वारदातों को अंजाम देना शुरू किया था तो कई वारदातों का सुराग दिल्ली पुलिस नही लगा पाई. लेकिन जब मॉडल टाउन, न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी, मंडावली, पांडव नगर में लूटपाट के सीसीटीवी फुटेज सामने आने लगे तो दिल्ली पुलिस में हड़कंप मच गया. खुद पुलिस कमिश्नर को भी रात में गश्त लगानी पड़ी.

इन बदमाशों की पहचान नार्थ ईस्ट दिल्ली के स्पेशल स्टाफ की टीम को हुई जब निजामुद्दीन इलाके में इन बदमाशों ने लूट की एक वारदात को 2 दिन पहले अंजाम दिया था. जिनमें इनके पहने हुए कपड़े देखकर स्पेशल स्टाफ की टीम ने इनका इनपुट लेना शुरू किया और ये लोनी इलाके में उस समय दबोच लिए गए, जब ये दोनों बदमाश बाइक में बैठकर आ रहे थे. 

पुलिस के मुताबिक इन्हें जमानत मिली तो जेल से छूटने के बाद इन्होंने फिर अपने गैंग को सक्रिय किया. ये गैंग टोपी पहनकर वारदात को अंजाम देता था ताकि कोई इनकी शक्ल पहचान न सके. इन बदमाशों ने दिल्ली के मॉडल टाउन में उस समय वारदात को अंजाम दिया जब एक दम्पति घर के अंदर कार को पार्किंग कर रहा था. तभी ये बदमाश पिस्टल तानकर व्यापारी से लूटपाट करके फरार हो गए लेकिन वहां से कुछ दूरी पर आदर्श नगर इलाके में पुलिस बेरिकेड्स पर जब इन्हें रुकने का इशारा किया गया तब इन्होंने पुलिस पर फायर कर दिया. 

ये लुटेरे लूटपाट के लिए बाइक छीनते थे और उसी बाइक से वारदात को आधी रात में अंजाम देते थे. एक-दो लूटपाट करने के बाद छीनी हुई गाड़ी को सड़क पर छोड़ देते थे, जिसके बाद 5 लोगों का ये गैंग दूसरी गाड़ी छीन लेता था. पूछताछ में ये भी खुलासा हुआ है कि आरोपियों ने किराए पर तीन-चार कमरे लिए हुए थे. कभी गाज़ियाबाद तो कभी नार्थ ईस्ट दिल्ली के अलग अलग इलाकों में लगातार कमरे लेकर रह रहे थे. अगर पुलिस का खतरा होता तो बिजनौर चले जाते थे. 

इस गैंग की अबतक 18 वारदातें सामने आई हैं लेकिन सूत्रों के मुताबिक इस गैंग ने गुरुग्राम में भी कई वारदातें अंजाम दी है. वहीं 100 से ज्यादा वारदातों को अंजाम देना वाला लुटेरा गैंग जेल में जाने से भी नही डरता है. यही वजह है कि ये लगातार वारदात को अंजाम देते रहे. अब देखना है कि पुलिस इनके बाकी साथियों तक कब पहुंच पाती है.