लालकिले के पास बदमाशों ने ASI को ही लूटा, विरोध करने पर मारी गोली

गुरुवार की रात विजय घाट के पास ये वारदात हुई. पुल‍िस अब तक बदमाश को पकड़ नहीं पाई है.

लालकिले के पास बदमाशों ने ASI को ही लूटा, विरोध करने पर मारी गोली

नई दिल्ली: पुलिस विभाग में उस वक्त अफरा-तफरी मच गई, जब बेख़ौफ़ बाइक सवार बदमाशों ने लालकिले के पीछे दिल्ली पुलिस के एएसआई को लूट का विरोध करने पर गोली मार दी. बेख़ौफ़ बदमाश वारदात को अंजाम देकर फ़रार हो गए. पुलिस अब सीसीटीवी के आधार पर बदमाशों का सुराग तलाश रही है और घायल पुलिसकर्मी एम्स अस्पताल में भर्ती है, जहां उसका इलाज चल रहा है.

दिल्ली पुलिस के सीनियर ऑफिसर ने बताया की गुरुवार रात तक़रीबन 11.30 बजे हमे जानकारी मिली कि एक पुलिसकर्मी को गोली मार दी है, जब हम मौके पर पहुंचे तो घायल ASI को हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया. घायल पुलिसकर्मी की पहचान बेदी राम के तौर पर हुई जो दिल्ली के हज़रत निजामुद्दीन पुलिस स्टेशन में बतौर एएसआई के पद पर तैनात है.

पुलिसकर्मी को गोली लगने की सूचना मिलते ही पुलिस के सीनियर ऑफिसर मौके पर पहुंच गए. घायल पुलिसकर्मी ने बताया कि वो रात को हज़रत निजामुद्दीन थाने से सीलमपुर अपने किसी जानकार के पास जाने के लिए निकला लेकिन जैसे लालकिले के पीछे लोहे के पुल के पास पहुंचा तभी बुलट पर तीन सवार बदमाशों ने बाइक सवार एएसआई को रोका और उसके साथ लूटपाट करना शुरू कर दिया. जैसे ही उसने विरोध किया तो उसके पेट में गोली मार दी. पर्स और मोबाइल लूटकर फरार हो गए.

अब पुलिस ने बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए कई टीम बनाई है, जो बदमाशों तक पहुंचने की कोशिश कर रही है, लेकिन सबसे बड़ी बात ये है कि लालकिले और राजघाट जैसा हाई सिक्युरिटी एरिया होने के बाद भी बदमाशों ने बेख़ौफ़ होकर दिल्ली पुलिस के एएसआई को ही अपना शिकार बना दिया.

150 मीटर की दूरी पर लगी थी पिकअप
जिस जगह पर वारदात हुई वहां से करीब 150 मीटर की दूरी पर पुलिस पिकअप थी. बावजूद इसके बाइक सवार बदमाश वारदात को अंजाम देकर फरार हो गए. लोगों का आरोप है कि जहां वारदात हुई वहां 250-300 मीटर के दायरे में अंधेरा छाया रहता है. ब्लैक स्पॉट होने की वजह से बदमाश यहां घात लगाकर बैठे रहते हैं और वारदात को अंजाम देकर फरार हो जाते हैं.