चोरी का माल लौटाने पर दिल्ली पुलिस का कांस्‍टेबल पुरस्कृत

करनाल के एक फॉर्म हाउस से 40 लाख रुपये मूल्य की कीमत के चुराए गये गहने बरामद करने और इसे अपने विभाग में जमा करने वाले दिल्ली पुलिस के एक कांस्टेबल को ईमानदारी के उसके ‘अनुकरणीय आचरण’ के लिए पुरस्कृत किया गया है।

नई दिल्ली : करनाल के एक फॉर्म हाउस से 40 लाख रुपये मूल्य की कीमत के चुराए गये गहने बरामद करने और इसे अपने विभाग में जमा करने वाले दिल्ली पुलिस के एक कांस्टेबल को ईमानदारी के उसके ‘अनुकरणीय आचरण’ के लिए पुरस्कृत किया गया है।

नव नियुक्त पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक ने पूर्वी जिला में तैनात कांस्टेबल संदीप की ट्वीटर पर सराहना की है और उसे 50,000 रुपया ईनाम देने की घोषणा की है। ब्यौरा साझा करते हुये पूर्वी जिला के डसीपी ओमवीर सिंह ने कहा कि कल बस टर्मिनल पर आने वाले यात्रियों की जांच के दौरान आनंद विहार आईएसबीटी पर संदीप ने अनेन्दर को धर दबोचा। जांच के दौरान, संदिग्ध के बैग से सोने के आभूषण मिले जिसके बारे में वह बता नहीं सका।

सिंह ने कहा कि लगातार पूछताछ के दौरान उसने बताया कि वह करनाल शहर के नजदीक एक फॉर्म हाउस में घरेलू नौकर के रूप में कार्यरत था। उसे मालूम हुआ कि फॉर्म हाउस में भारी मात्रा में सोना और नकदी है। उन्होंने बताया कि 31 जनवरी और एक फरवरी के दरम्यानी रात में उसने लॉकर के चाभी का पता लगाया और सभी जेवरात और नकदी लेकर फरार हो गया। करनाल पुलिस मामले में आगे की कानूनी प्रक्रियाओं के लिए दिल्ली पहुंच गयी है।