close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

गैंगवार में दोनों ओर से चल रही थीं गोलियां, बीच में आया पुलिसकर्मी और फिर...

पुलिस के मुताबिक फायरिंग की आवाज़ सुनकर सड़क के दूसरी तरफ खड़ी एक पीसीआर वैन में तैनात पुलिसकर्मियों ने फायरिंग कर रहे बदमाशों को ललकारा.

गैंगवार में दोनों ओर से चल रही थीं गोलियां, बीच में आया पुलिसकर्मी और फिर...
पुलिस के मुताबिक जिस शख्स की कार में मौत हुई उसका नाम प्रवीण गहलोत था और वो नवादा इलाके का रहने वाला एक नामी अपराधी था.

नई दिल्ली: रविवार को दिल्ली के द्वारका इलाके में एक बेहद व्यस्त सड़क पर ताबड़तोड़ गोलियां चलीं. पहले बदमाशों के एक गुट ने एक दूसरे गुट के बदमाश की हत्या कर दी. इसी बीच सड़क के दूसरी तरफ खड़ी पीसीआर वैन के पुलिसकर्मियों ने फायरिंग कर दी. जिससे हत्या करने वाला बदमाश भी मौके पर ढेर हो गया. 

दिल्ली के द्वारका मोड़ मेट्रो स्टेशन के नीचे हमेशा व्यस्त रहने वाली सड़क के बीचोबीच रविवार शाम 4 बजे एक कार में सवार कुछ बदमाशों ने एक सफेद रंग की रिट्ज कार पर फायरिंग करना शुरू कर दिया. करीब 15 राउंड फायरिंग हुई. जिसमें 11 गोलियां के निशान कार के शीशे में साफ दिखाई दे रहे हैं. फायरिंग में रिट्ज कार में सवार तरुण गहलोत नाम एक शख्स मारा गया.

पुलिस के मुताबिक फायरिंग की आवाज़ सुनकर सड़क के दूसरी तरफ खड़ी एक पीसीआर वैन में तैनात पुलिसकर्मियों ने फायरिंग कर रहे बदमाशों को ललकारा. बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग कर दी. इसी बीच पीसीआर के कांस्टेबल नरेश ने बहादुरी दिखाते हुए अपनी आधुनिक MP5 गन से फायरिंग कर दी, जिससे गोली हत्या करने वाले बदमाश को गोली लगी जिसकी अस्पताल में मौत हो गई. पुलिस की गोली से मरने वाले शख्स की पहचान विकास दलाल नाम के बदमाश के तौर पर हुई है. 

पुलिस के मुताबिक जिस शख्स की कार में मौत हुई उसका नाम प्रवीण गहलोत था और वो नवादा इलाके का रहने वाला एक नामी अपराधी था. वहीं, प्रवीण को गोली मारने वाले शख्स का नाम विकास दलाल था, विकास भी एक बड़ा अपराधी था. जिसे पुलिस ने मौके पर ढेर कर दिया, ये वारदात एक गैंगवार है. पुलिस अब इस मामले में कई और लोगों की तलाश कर रही है. लेकिन राजधानी दिल्ली में बीच सड़क पर हुए इस शूटआउट के दौरान पुलिस के जवान ने जिस तरह बहादुरी दिखाते हुए एक नामी बदमाश को मार गिराया, उसके बाद पुलिस कांस्टेबल को आउट ऑफ टर्न प्रमोशन देने की शिफारिश करेगी.