82 तबलीगी जमातियों पर बड़ी कार्रवाई, दिल्ली पुलिस ने दाखिल की चार्जशीट

ये लोग निजामुद्दीन मरकज में चल रही धार्मिक गतिविधियों में शामिल हुए थे.

82 तबलीगी जमातियों पर बड़ी कार्रवाई, दिल्ली पुलिस ने दाखिल की चार्जशीट
निजामुद्दीन मरकज से निकलता हुआ तबलीगी जमाती (फाइल फोटो) | फोटो साभार: रॉयटर्स

नई दिल्ली: निजामुद्दीन मरकज के कार्यक्रम में पहुंचे विदेशी जमातियों के मामले में दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने आज मंगलवार को 20 देशों के 82 विदेशी तबलीगी जमातियों के खिलाफ साकेत कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की. दरअसल तबलीगी जमात (Tablighi Jamaat) के इन विदेशी जमातियों पर वीजा नियमों के उल्लंघन का आरोप है. ये विदेशी जमाती टूरिस्ट वीजा पर भारत आए थे लेकिन फिर निजामुद्दीन मरकज में चल रही धार्मिक गतिविधियों में शामिल हुए थे.

दिल्ली पुलिस ने इन 82 विदेशी तबलीगी जमातियों के खिलाफ 15 हजार 449 पन्नों की 20 चार्जशीट दाखिल की हैं. दिल्ली पुलिस ने सभी विदेशी जमातियों से पूछताछ पूरी कर ली है. कई लोगों ने कहा कि वो निजामुद्दीन मरकज के मौलाना मोहम्मद साद के कहने पर 20 मार्च के बाद भी रुके थे.

अब सभी विदेशी जमातियों का क्वारंटाइन पीरियड खत्म भी हो चुका है. इन सभी को अलग-अलग जगह रखा गया है.

ये भी देखें...

ये भी पढ़ें- क्राइम ब्रांच ने मौलाना साद के 5 करीबियों पर कसा शिकंजा, जब्त किए पासपोर्ट

इसके अलावा क्राइम ब्रांच ने निजामुद्दीन मरकज से जुड़े मौलाना साद के 5 साथियों के पासपोर्ट जब्त कर लिए हैं. ये पांचों नामजद आरोपी हैं और मौलाना साद के करीबी भी हैं. जब तक मामले की जांच चलेगी, तब तक इनमें से कोई भी आरोपी देश के बाहर नहीं जा सकेगा.

क्राइम ब्रांच के सूत्रों की माने तो तबलीगी जमात में मौलाना साद के अलावा इन पांचों आरोपियों की भूमिका महत्वपूर्ण है. मरकज से जुड़ा कोई भी फैसला हो, मौलाना साद इनको उसमें जरूर शामिल करता था.

(इनपुट- महेश गुप्ता)