close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

महिला सुरक्षा के लिये दिल्ली पुलिस का 'ट्रैक मी' फंडा

महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने की दिशा में एक और कदम आगे बढ़ाते हुए दिल्ली पुलिस अपनी मौजूदा एसओएस एप्लीकेशन ‘हिम्मत’ पर ‘ट्रैक मी’ नामक सुविधा शुरू करने के लिए तैयार है। यह सुविधा देर रात को यात्रा करने वाली महिलाओं के लिए विशेष तौर पर फायदेमंद होगी।

नई दिल्ली : महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने की दिशा में एक और कदम आगे बढ़ाते हुए दिल्ली पुलिस अपनी मौजूदा एसओएस एप्लीकेशन ‘हिम्मत’ पर ‘ट्रैक मी’ नामक सुविधा शुरू करने के लिए तैयार है। यह सुविधा देर रात को यात्रा करने वाली महिलाओं के लिए विशेष तौर पर फायदेमंद होगी।

दिल्ली पुलिस के ऑपरेशन्स विंग के एक अधिकारी ने कहा कि 'ट्रैक मी’ सुविधा के तहत यात्रियों के पास तीन समयावधियों में से किसी भी समयावधि को चुनने का विकल्प होगा और इस चयनित अवधि के दौरान जीपीएस ट्रैकिंग जारी रहेगी।

यदि चयनित समयावधि में महिला अपने गंतव्य पर नहीं पहुंचती है तो विकल्प को एक-बार फिर चुना जा सकता है और फिर ट्रैकिंग जारी रहेगी। यदि दोबारा समयावधि का चयन नहीं किया जाता, तो पुलिस नियंत्रण कक्ष की निगरानी में चल रही प्रक्रिया स्वत: ही रूक जाएगी। हिम्मत एप्लीकेशन को जीपीएस ट्रैकिंग प्रणाली से जोड़ा गया था, जो कि एसओएस अलर्ट के मूल स्थान का पता लगाने के लिए इस्तेमाल होती है। 

अधिकारी ने कहा, 'सिस्टम में इस नए समावेश से पुलिस नियंत्रण कक्ष मुश्किल में फंसे किसी व्यक्ति की भौगोलिक स्थिति का पता आराम से लगा सकता है। वह व्यक्ति की स्थितियां बदलते रहने पर भी उसका पता लगा सकता है।' विकसित की गई इस सुविधा को फिलहाल प्रायोगिक स्तर पर रखा गया है। ऑपरेशन्स विभाग के लगभग आठ अधिकारी इसका इस्तेमाल कर रहे हैं।