close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

दिल्‍ली: बारापुला फ्लाइओवर से गिरे स्कूटी सवार दो युवक, एक की मौत

सराय काले खां की ओर से रांग साइड फ्लाईओवर पर चढ़े स्कूटी सवार दो युवक स्कूटी फिसलने से 25 से 30 फुट नीचे गिर गए.

दिल्‍ली: बारापुला फ्लाइओवर से गिरे स्कूटी सवार दो युवक, एक की मौत

नई दिल्ली: दिल्ली के बारापुला फ्लाईओवर पर एक बार फिर हादसा हो गया. सराय काले खां की ओर से रांग साइड फ्लाईओवर पर चढ़े स्कूटी सवार दो युवक स्कूटी फिसलने से 25 से 30 फुट नीचे गिर गए. हादसे की सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने घायलों को एम्स ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया, जहां एक युवक को मृत घोषित कर दिया गया. मृतक की शिनाख्त रोहित मकोल (26 ) के रूप में हुई है.

हादसे में घायल हुआ रोहित का ममेरे भाई प्रदीप की हालत नाजुक बनी हुई है. हादसा इतना जबरदस्त था कि दोनों युवकों के हेल्मेट ऊंचाई से नीचे गिरने से टूट गए. रोहित के सिर में हेल्मेट के टूटे हिस्से घुसने के अलावा उसके शरीर की दर्जन भर से अधिक हड्डियां टूट गई. सनलाइट कालोनी थाना पुलिस ने रविवार को एम्स अस्पताल में पोस्टमार्टम के बाद शव को परिजनों के हवाले कर दिया है. पुलिस मामले की छानबीन कर रही है.

पुलिस के मुताबिक रोहित मकोल परिवार के साथ पहली मंजिल, गली नंबर-8, कृष्णा पार्क, तिलक नगर में रहता था. पिता अशोक मकोल की काफी समय मौत हो चुकी है. परिवार में मां व दो भाई हैं. रोहित नोएडा स्थित जेनपैक कंपनी में पिछले करीब दो साल से मैनेजर था. वहीं रोहित का मौसेरा भाई प्रदीप परिवार के साथ ग्वालियर में रहता है. प्रदीप वहीं पर प्राइवेट नौकरी करता है. प्रदीप की कई छुट्टियां होने के कारण वह घूमने के लिए दिल्ली मौसी के घर आ गया. इधर शनिवार को रोहित की भी  जन्मआष्टमी की छुट्टी थी. दोनों भाई स्कूटी से दक्षिण दिल्ली घूमने के लिए निकल गए.

पुलिस के अनुसार शाम को स्कूटी चला रहा रोहित सराय काले खां के पास लूप से रोंग साइड बारापुला फ्लाईओवर पर चढ़ गया. बारिश होने के कारण सड़क गीली थी. रांग साइड और रफ्तार तेज होने के कारण अचानक रोहित का संतुलन बिगड़ गया और वह फ्लाईओवर की रेलिंग से तेज रफ्तार टकरा गया.

टक्कर लगते ही रोहित और प्रदीप दोनों नीचे करीब 25 से 30 फुट नीचे गिर गए. रोहित नीचे सड़क पर गिरा, जबकि प्रदीप नीचे नाले में गिरा। राहगीरों ने शाम करीब 5 बजे पुलिस को सूचना दी. सूचना मिलने के बाद पीसीआर ने दोनों को एम्स अस्पताल पहुंचाया, जहां रोहित को मृत घोषित कर दिया गया, वहीं प्रदीप की हालत नाजुक बनी हुई है. माना जा रहा है कि नाले में मिट्टी होने की वजह से प्रदीप इतनी ऊंचाई से गिरने की वजह से बच गया. वहीं सड़क पर गिरने के कारण रोहित की मौत हो गई. पुलिस ने रविवार को पोस्टमार्टम के बाद रोहित का शव परिजनों को सौंप दिया है. पुलिस मामले की छानबीन कर रही है.

हादसे के कारणों की जांच करेगी क्राइम टीम...
दक्षिण-पूर्व जिला के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों का कहना है कि शुरूआती जांच के दौरान पता चला कि स्कूटी सवार दोनों युवक रांग साइड आने की वजह से हादसे का शिकार हुए. पुलिस हादसे की हर एंगल से जांच करेगी. स्कूटी का मैकेनिकल इंस्पेक्शन कराया जाएगा, जिससे इस बात का भी पता किया जाएगा कि नीचे गिरने से पूर्व इनकी स्कूटी को किसी अन्य वाहन ने टक्कर तो नहीं मारी थी. इसके अलावा हादसे के लिए क्या बारिश, रांग साइड आना और रफ्तार कारण बना.

बारापुला फ्लाईओवर की रेलिंग की ऊंचाई कम
रोहित के परिवार ने फ्लाईओवर का रखरखाव रखने वाली एजेंसी पर लापरवाही के आरोप लगाए हैं. रोहित की बुआ के लड़के मयंक ने बताया कि हादसे वाले स्थान पर यदि रेलिंग थोड़ी और ऊंची होती तो शायद दोनों की जान बच जाती. मयंक का आरोप था कि बारापुला फ्लाईओवर की बनावट में भी गड़बड़ है, जिसकी वजह से अक्सर हादसे होते हैं. बता दें कि इससे पूर्व 6 जनवरी को बारापुला फ्लाईओवर पर लग्जरी कार ने बाइक सवार दंपति को टक्कर मार दी थी. हादसे में दोनों नीचे गिर गए थे, जिसमें पत्नी की मौत हो गई थी और पति बुरी तरह जख्मी हो गया था.