DU में तीसरी कटऑफ के बाद इन कोर्स में दाखिले के रास्ते हुए बंद

डीयू की पहली दो कटऑफ लिस्ट आने के बाद एक दर्जन से ज्यादा कॉलेजों ने बीकॉम (ऑनर्स) में दाखिला बंद कर दिया है. बात कॉलेज के अनुसार कटऑफ की करें तो हिंदू कॉलेज में बीए इकोनॉमिक्स आनर्स में सबसे ज्यादा 97.50% गई है. 

DU में तीसरी कटऑफ के बाद इन कोर्स में दाखिले के रास्ते हुए बंद
प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली : दिल्ली यूनिवर्सिटी में दाखिले की दौड़ के बीच तीसरी कटऑफ जारी कर दी गई है. हालांकि तीसरी कटऑफ में कई प्रतिष्ठित कॉलेजों ने कुछ पाठ्यक्रमों के लिए तीसरी कट ऑफ लिस्ट जारी नहीं की है. तीसरी कटऑफ जारी होने के बाद 30 जून से 7 जुलाई के बीच दाखिले के लिए दौड़ शुरू होगी. माना जा रहा है कि इस बार डीयू प्रशासन शायद ही चौथी कटऑफ जारी करें, क्योंकि दूसरी कटऑफ आने के बाद  56000 सीटों में से 33,000 पर दाखिले हो चुके हैं. तीसरी कटऑफ के बाद 10,000 से ज्यादा एडमिशन के कयास लगाए जा रहे हैं. 

इन कोर्स में दाखिले हुए बंद
डीयू की पहली दो कटऑफ लिस्ट आने के बाद एक दर्जन से ज्यादा कॉलेजों ने बीकॉम (ऑनर्स) में दाखिला बंद कर दिया है. बात कॉलेज के अनुसार कटऑफ की करें तो हिंदू कॉलेज में बीए इकोनॉमिक्स आनर्स में सबसे ज्यादा 97.50% गई है. वहीं, बीए इंग्लिश में 96.75% कटऑफ गई है. दूसरी कटऑफ आने के बाद हिंदू कॉलेज में दाखिले बंद कर दिए गए हैं. बात अगर किरोड़ीमल कॉलेज की करें तो यहां पर बीए ऑनर्स इंग्लिश और बीए ऑनर्स हिस्ट्री में एडमिशन के लिए 94.5% कटऑफ गई है.

HRD की रैंकिंग सूची में टॉप 10 में से 5 डीयू के कॉलेज

दूसरी लिस्ट के बाद भरी 33,000 सीटें
24 जून को जारी हुई दिल्ली यूनिवर्सिटी की दूसरी कटऑफ लिस्ट के बाद करीब 26,000 छात्रों ने दाखिला लिया था. एडमिशन के आखिरी दिन करीह 4003 छात्रों नमे दाखिला लिया था, जिसके बाद 33,000 सीटें फुल हो गई हैं. 

इंग्लिश ऑनर्स के लिए आए सबसे ज्यादा आवेदन
दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) के मुताबिक, इस बार विश्वविद्यालय में अंग्रेजी विषय में दाखिले की होड़ सबसे ज्यादा थी. डीयू की ओर से साझा किए गए आंकड़ों के अनुसार, बीए (ऑनर्स) अंग्रेजी में दाखिले के लिए 1,26,327 छात्रों ने आवेदन किया जबकि बीए (प्रोग्राम) में दाखिले के लिए 1,05,818 छात्रों ने आवेदन किया था. बीए (ऑनर्स) राजनीति विज्ञान में दाखिले के लिए 1,05,590 जबकि बीए (ऑनर्स) अर्थशास्त्र के लिए 96,709 आवेदन आए थे. सबसे कम आवेदन बीए (व्यावसायिक) पर्यटन प्रबंधन के लिए आए हैं. बीए (व्यावसायिक) मानव संसाधन प्रबंधन के लिए भी महज 53,207 आवेदन आए थे.