दिल्ली में हवा की गुणवत्ता में सुधार, लेकिन अभी भी बनी हुई है 'खराब श्रेणी' में

एयर क्वालिटी इंडेक्स के मुताबकि दिल्ली में लोधी रोड पर पीएम 2.5 का स्तर 218 और पीएम 10 का स्तर 217 आंका गया जो कि खराब श्रेणी में आता है. 

दिल्ली में हवा की गुणवत्ता में सुधार, लेकिन अभी भी बनी हुई है 'खराब श्रेणी' में
(फाइल फोटो,साभार रॉयटर्स)

नई दिल्ली: दिल्ली (Delhi) में रविवार को प्रदूषण (Pollution) का स्तर थोड़ा सुधरा हालांकि वह अब भी खराब श्रेणी में बना हुआ है. एयर क्वालिटी इंडेक्स के मुताबकि दिल्ली में लोधी रोड पर पीएम 2.5 का स्तर 218 और पीएम 10 का स्तर 217 आंका गया जो कि खराब श्रेणी में आता है. 

गुरुग्राम में एनआइएसइ ग्वाल पहाड़ी (NISE Gwal Pahari area) इलाके में हवा की गुणवत्ता  (Air quality) का स्तर 301 मापा गया जो कि बहुत खराब श्रेणी में आता है. सीपीसीबी के मुताबिक नोएडा में सेक्टर 62 इलाके में AQI 221 रहा जो कि खराब श्रेणी में आता है. 

एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआई) को 0-50 के बीच बेहतर, 51-100 के बीच संतोषजनक, 101 से 200 के बीच सामान्य, 201 से 300 के बीच खराब, 301 से 400 के बीच बहुत खराब और 401 से 500 के बीच गंभीर माना जाता है. हवा में पीएम 10 का स्तर 100 और पीएम 2.5 60 माइक्रोग्राम प्रतिघन मीटर से ज्यादा नहीं होना चाहिए.

इससे पहले शनिवार को दिल्ली की वायु गुणवत्ता में सुधार देखा गया था. देश की राजधानी की वायु गुणवत्ता सूचाकांक (एक्यूआई) 404 के साथ शनिवार की सुबह को प्रदूषण में थोड़ी कमी दर्ज की गई. स्थानीय वायु के चलने के कारण प्रदूषण के स्तर में यह गिरावट दर्ज की गई. शुक्रवार को एक्यूआई का स्तर 528 से भी अधिक था.

सफर इंडिया के अनुसार, सुधार के क्षेत्र में दो महत्वपूर्ण कारक काम कर रहे हैं. इसमें पहला कारक यह है कि आगामी तीन दिनों के लिए स्थानीय दिल्ली की हवा की गति में वृद्धि की संभावना व्यक्त की गई है.

इससे वेंटिलेशन बढ़ेगा और हवा की गुणवत्ता में थोड़ा सुधार हो सकता है. वहीं दूसरा कारक है कि पराली के धुएं को लाने वाली वायु की दिशा अब उत्तर की ओर हैं, जिससे उसका धुआं राजधानी की ओर नहीं आएगा. पूवार्नुमान में कहा गया है कि हल्की बारिश होने की स्थिति में सुधार हुआ है और रविवार तक हल्की बारिश हो सकती है.

(इनपुट - एजेंसी)