हरियाणा में कॉमन मिनिमम प्रोग्राम बनाने की कवायद शुरू, हुई पहली बैठक

हरियाणा में गठबंधन सरकार बनाने वाली भाजपा और जजपा की कॉमन मिनिमम प्रोग्राम कमेटी की आज चंडीगढ़ में पहली बैठक हुई.

हरियाणा में कॉमन मिनिमम प्रोग्राम बनाने की कवायद शुरू, हुई पहली बैठक
.(फाइल फोटो)

चंडीगढ़: हरियाणा में गठबंधन सरकार बनाने वाली भाजपा और जजपा की कॉमन मिनिमम प्रोग्राम कमेटी की आज चंडीगढ़ में पहली बैठक हुई. हालांकि पहली बैठक में दोनों पार्टियों की तरफ से किए गए चुनावी वायदों पर विचार विमर्श ही किया गया. कमेटी की अगली बैठक पंद्रह दिन बाद होनी तय की गई है. गठबंधन सरकार के गठन के करीब महीने भर बाद कॉमन मिनिमम प्रोग्राम की पहली बैठक बुलाई गई थी. महाराष्ट्र में कई नाटकीय दौरों से गुजरने के बाद असितत्व में आई गठबंधन की सरकार ने बेशक सरकार बनते ही कॉमन मिनिमम प्रोग्राम जारी कर दिया हो मगर हरियाणा इस मामले में बहुत पीछे है.

सरकार के गठन होने के करीब एक महीने बाद चंडीगढ़ में आज भाजपा और जजपा की कॉमन मिनिमम प्रोग्राम कमेटी की पहली बैठक हुई.हालांकिइस इस बैठक में दोनों पार्टियों दुआरा की गई चुनावी घोषणाओं पर चर्चा की गई. यह जानकारी गृह मंत्री अनिल विज ने दी. अनिल विज कॉमन मिनिमम प्रोग्राम कमेटी का हिस्सा हैं. 

जानकारी के अनुसार दोनों पार्टियों ने चुनाव के दौरान करीब 426 चुनावी वादे किये थे. अब सरकार गठन के बाद क्यूंकि चुनावी वादों को पूरा करने की गठबंधन सकरार के सामने चुनौती है लिहाजा तोल मोल कर फैसले लेने जरूरी हैं. यही वजह है कि कॉमन मिनिमम प्रोग्राम की इस बैठक में कानूनी और वित्तीय विभागों से जुड़े अधिकारियों को भी रखा गया ताकि वादे पुरे करते हुए प्रदेश की वित्तीय हालात और कानूनी पहलुओं को भी ध्यान में रखा जाए.

इस बैठक में  भाजपा की तरफ से ग्रह मंत्री अनिल विज , शिक्षा मंत्री कंवर पाल गुज्जर ,पूर्व मंत्री ओम प्रकाश धनखड़ और जजपा की तरफ से राज्य मंत्री अनूप धानक और विधायक राजदीप फोगाट शामिल थे. गौरतलब है कि हरियाणा में भाजपा को पूर्ण बहुमत ना मिल पाने की वजह से  भारतीय जनता पार्टी को  जन नायक जनता पार्टी के साथ मिलकर सरकार बनानी पड़ी है.

भाजपा को 40 और जजपा को दस सीटों पर जीत हासिल हुई थी जबकि बहुमत के लिए 46 का आंकड़ा चाहिए था. बहरहाल देखना यह दिलचश्प होगा कि दोनों पार्टियां किन किन महत्वपूर्ण घोषणाओं को लेकर कॉमन मिनिमम प्रोग्राम तय करती है और इसमें अभी और कॉमन मिनिमम प्रोग्राम तय होने में अभी और कितना समय लगेगा.