फरीदाबाद: गौ तस्करों और गौ रक्षकों के बीच फायरिंग, 5 गायों को बचाया गया

मौके पर उपस्थित पुलिस ने कैंटर से बंधी गायों को छु़ड़ाया और अज्ञात गौ तस्करों के खिलाफ गोकशी अधिनियम के तहत मामला भी दर्ज कर लिया है.

फरीदाबाद: गौ तस्करों और गौ रक्षकों के बीच फायरिंग, 5 गायों को बचाया गया
प्रतीकात्मक तस्वीर.

विनोद मित्तल, फरीदाबाद: राजधानी दिल्ली (Delhi) से सटे फरीदाबाद (Faridabad) में गौ तस्करों और गौ रक्षकों के बीच फायरिंग का मामला सामने आया है. मामला फरीदाबाद के सेक्टर 58 थाने का है. यहां रविवार देर रात तस्करी के लिए गाय पकड़ने आ रहे गौ तस्करों और गौ रक्षकों के बीच फायरिंग हुई. अपने आप को घिरा पाकर गौ तस्कर कैंटर को वहीं छोड़कर फरार हो गए. बदमाशों ने 5 गाय पकड़ कर कैंटर में बेरहमी से बांध रखा था. मौके पर उपस्थित पुलिस ने कैंटर से बंधी गायों को छु़ड़ाया और अज्ञात गौ तस्करों के खिलाफ गोकशी अधिनियम के तहत मामला भी दर्ज कर लिया है.

गौ रक्षक सेवा वाहिनी के अध्यक्ष अशोक बाबा ने बताया कि उन्हें रात को 2 बजे सूचना मिली कि गौ तस्कर एक कैंटर में गायों को भरकर उन्हें गोकशी के लिए ले जाने वाले हैं. इसलिए उन्होंने उनका पीछा किया और नेशनल हाईवे बल्लभगढ़ पर एल्सन चौक के पास उन्हें घेर लिया. खुद को घिरा पाकर गौ तस्कर वहां से कैंटर को छोड़कर फरार हो गए. पुलिस ने कैंटर से 5 गायों को बरामद कर लिया. 

हालांकि, मामले की जांच कर रहे सहायक उप निरीक्षक विकास की मानें तो बल्लभगढ़ से पलवल की तरफ जा रही टाटा 407 गाड़ी में गायों को भरकर ले जाने कि उन्हें सूचना मिली थी. आगे निर्माणाधीन पुल होने की वजह से गाड़ी टकरा गई और गौ तस्कर वहां से फरार हो गए. फिलहाल पुलिस ने 5 गाय बरामद कर ली है और हमलावरों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है.

ये भी देखें