close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ऑड-ईवन का पहला दिन, साइकिल से ऑफिस पहुंचे डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया

दोपहिया वाहनों को ऑड-ईवन से बाहर रखा गया है. साथ ही महिलाओं को भी इस नियम से छूट दी गई है. ऐसी गाड़ी जिसमें महिला के साथ 12 साल तक का बच्चा हो उसे भी छूट मिलेगी. 

ऑड-ईवन का पहला दिन, साइकिल से ऑफिस पहुंचे डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया
फोटो- ANI

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली में प्रदूषण के बढ़ते स्तर को देखते हुए दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार ने ऑड-ईवन (Odd-Even) फॉर्मूला फिर से लागू कर दिया है. आज इसका पहला दिन हैं. ऑड-ईवन (Odd-Even) न सिर्फ आम जनता पर लागू किया गया है बल्कि दिल्ली सरकार के सभी मंत्रियों पर लगाया गया है.ऑड-ईवन में दिल्ली के मंत्री भी योगदान कर रहे हैं. दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) साइकिल चलाकर अपने दफ्तर पहुंचे.

दिल्ली में ऑड-ईवन पर उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा, 'उत्तर भारत में पराली की वजह से प्रदूषण का स्तर बढ़ा. लेकिन अगर अगले 10 दिनों के लिए ऑड-ईवन योजना का पालन करते हैं, तो प्रदूषण से कुछ राहत मिलेगी. ऑड-ईवन हर किसी के फायदे के लिए है.'

बता दें कि दोपहिया वाहनों को ऑड-ईवन से बाहर रखा गया है. साथ ही महिलाओं को भी इस नियम से छूट दी गई है. ऐसी गाड़ी जिसमें महिला के साथ 12 साल तक का बच्चा हो उसे भी छूट मिलेगी. इसके साथ राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, केंद्रीय मंत्री, सुप्रीम कोर्ट और हाईकोर्ट के जज़, दूसरे राज्यों के सीएम और उनके काफिले और इमरजेंसी गाड़ियों को इस नियम से छूट दी गई है.

CNG गाड़ियों को नहीं है छूट
ऑड-ईवन में इस बार प्राइवेट CNG गाड़ियों को कोई छूट नहीं दी गई है. हालांकि इससे पहले लागू हुए ऑड-ईवन में CNG कारों को छूट दी गई थी और साथ ही सभी डीज़ल-पेट्रोल गाड़ियों को इसके दायरे में रखा गया है. दिल्ली में दूसरे राज्यों से आने वाली गाड़ियों पर भी ऑड-ईवन नियम लागू होगा. बाहर से आने वाली इन गाड़ियों को किसी भी तरह से छूट नहीं दी जाएगी. इसलिए दिल्ली में जाने से पहले लोगों को अपनी कारों की नंबर प्लेट चेक कर लेनी चाहिए.

यह भी पढ़ें- प्रदूषण को लेकर केजरीवाल और जावडेकर में छिड़ी जुबानी जंग, एक-दूसरे को ठहराया जिम्मेदार

केंद्र सरकार और दिल्ली सरकार ने ऑड-ईवन नियम की वजह से अपने दफ्तरों के समय में बदलाव किए हैं. कुछ विभाग सुबह 9:30 बजे से शाम 6 बजे तक काम करेंगे. वहीं कुछ विभाग सुबह 10:30 से शाम 7 बजे तक काम करेंगे.