close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

हरियाणा: निर्दलीय विधायक गोपाल कांडा ने कहा, 'मैंने बिना शर्त BJP को समर्थन दिया है'

कांडा ने कहा, 'मेरे पिताजी 1926 से आरएसएस से जुड़े हुए थे. उन्होंने पहला आम चुनाव जनसंघ के टिकट पर ही लड़ा था.'

हरियाणा: निर्दलीय विधायक गोपाल कांडा ने कहा, 'मैंने बिना शर्त BJP को समर्थन दिया है'

नई दिल्ली: हरियाणा विधानसभा चुनाव (Haryana assembly elections 2019) में सिरसा से निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव जीते गोपाल कांडा (gopal kanda) ने कहा है कि उन्होंने बिना शर्त के बीजेपी (BJP) को समर्थन दिया है. कांडा ने कहा है कि उनका परिवार आरएसएस से जुड़ा रहा है.

गोपाल कांडा ने कहा, हमने अपना रुख गुरुवार को ही साफ कर दिया था. हम चाहते हैं जैसे मोदीजी के नेतृत्व में पूरा देश विकास की ओर अग्रसर है वैसे ही हरियाणा भी हो. हम 5-6 निर्दलीय विधायकों ने बीजेपी से शीर्ष नेताओं से बात की और बिना शर्त उन्हें समर्थन दे दिया. 

कांडा ने दावा किया कि बीजेपी को समर्थन देने के लिए उनपर कोई दबाव नहीं हैं. कांडा ने कहा, मेरे पिताजी 1926 से आरएसएस से जुड़े हुए थे. उन्होंने पहला आम चुनाव जनसंघ के टिकट पर ही लड़ा था तो हम तो हमेशा से ही इस परिवार का हिस्सा थे. 

हुड्डा सरकार में मंत्री रहे कांडा ने कांग्रेस को 2009 में समर्थन देने पर कहा, 'तब बीजेपी की चार ही सीटें आई थीं और  आईएनएलडी की 31 सीटें थीं उस समय हमने तय किया था कि प्रदेश में ओमप्रकाश चौटाला की सरकार नहीं बनने देनी इसलिए हमने कांग्रेस को समर्थन दिया था.' बता दें साल 2009 में निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर जीत कर विधायक बने थे और उस समय हरियाणा की हुड्डा सरकार में उन्हें मंत्रिपद भी मिला था.