close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

गुरुग्राम स्कूल मर्डर केस में आरोपी छात्र ने लगाई अंतरिम जमानत की याचिका, तेजी से कम हो रहा वजन

गुरुग्राम (Gurugram) के एक निजी स्कूल (private school) में मासूम बच्चे की गला रेत कर मर्डर (murder) करने वाले आरोपी छात्र ने पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट (Punjab Haryana High Court) से अंतरिम जमानत की मांग की है

गुरुग्राम स्कूल मर्डर केस में आरोपी छात्र ने लगाई अंतरिम जमानत की याचिका, तेजी से कम हो रहा वजन
(प्रतीकात्मक फोटो)

चंडीगढ़: गुरुग्राम (Gurugram) के एक निजी स्कूल (private school) में मासूम बच्चे की गला रेत कर मर्डर (murder) करने वाले आरोपी छात्र ने पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट (Punjab Haryana High Court) से अंतरिम जमानत की मांग की है. आरोपी छात्र के वकील (advocate) सर्वेश मलिक ने बताया कि वह करनाल के प्लेस ऑफ सेफ्टी में है. वह मानसिक तनाव में रहता है और उसका स्वास्थ्य गिरता जा रहा है. छात्र का वजन (weight) पहले 85 किलोग्राम के करीब था अब लगभग 22 किलोग्राम वजन कम हो गया है. याचिका में आरोपी छात्र के स्वास्थ्य बिगड़ने का हवाला देते हुए अपील की गई है कि उसे अंतरिम जमानत (interim bail) दी जाए और तब तक उसे गुरुग्राम स्थित उसके घर के पास किसी ऑब्जरवेशन होम (observation home) में ट्रांसफर किया जाए. हालांकि ऑब्जरवेशन होम में भी तय सीमा से ज्यादा आरोपी होने का याचिका में जिक्र किया गया है.

कोर्ट ने दिया मेडिकल बोर्ड से जांच कराने का निर्देश
आरोपी छात्र के वकील सर्वेश मलिक ने बताया कि हाईकोर्ट ने याचिका पर सुनवाई करते हुए सीबीआई (CBI), हरियाणा सरकार (Haryana Government) सहित सभी प्रतिवादियों को 3 अक्टूबर के लिए नोटिस (Notice) जारी कर जवाब तलब किया है. इसी के साथ कोर्ट ने करनाल के सिविल सर्जन को निर्देश दिया है कि वह मेडिकल बोर्ड (Medical Board) गठित करें व आरोपी छात्र के स्वास्थ्य की जांच कर हाईकोर्ट (High Court) में रिपोर्ट दें.

देखें लाइव टीवी

सितंबर 2017 में स्कूल के बाथरूम में हुई थी हत्या
आपको याद दिला दें कि सितंबर 2017 में हरियाणा (Haryana) में गुरुग्राम (Gurugram) के एक निजी स्कूल (private school) में दूसरी कक्षा के मासूम छात्र की स्कूल के बाथरूम में हत्या (murder) कर दी गई थी. पहले हत्या का शक स्कूल के बस कर्मचारी पर था लेकिन बाद में पता चला कि बच्चे की हत्या उसके स्कूल के की एक छात्र ने की थी. बता दें कि इस मामले में आरोपी छात्र को अभी तक जमानत (bail) नहीं मिल पाई है.