close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

हरियाणा विधानसभा चुनाव से पहले बोले सीएम खट्टर, 'आसानी से जीतेंगे 75+ सीटें'

'2014 में हम विपक्ष में थे, जनता ने सत्ता पक्ष के खिलाफ और हमारे वादों पर हमें 47 सीटों का आशीर्वाद दिया था. इस बार जनता हमारी सरकार की उपलब्धियों पर वोट करेगी.'

हरियाणा विधानसभा चुनाव से पहले बोले सीएम खट्टर, 'आसानी से जीतेंगे 75+ सीटें'

गुरुग्रामः हरियाणा विधानसभा चुनाव 2019 (Haryana assembly elections 2019)के लिए राज्य के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने 75 से ज्यादा सीटें जीतने का लक्ष्य रखा है. सीएम मनोहर लाल खट्टर ने ज़ी मीडिया से एक्सक्लूसिव बातचीत में कहा, 'हरियाणा में बीजेपी का 'मिशन 75' नहीं, 'मिशन 75+' है, हमारे विरोधी बहुत कमज़ोर स्थिति में हैं, हम 75 सीटें आसानी से जीतेंगे, बाकी '+' का फैसला जनता करेगी.' उन्होंने कहा कि 2014 की स्थिति और आज की स्थिति में बहुत अंतर है. 2014 में हम विपक्ष में थे, जनता ने सत्ता पक्ष के खिलाफ और हमारे वादों पर हमें 47 सीटों का आशीर्वाद दिया था. इस बार जनता हमारी सरकार की उपलब्धियों पर वोट करेगी.'

सीएम खट्टर ने कहा, 'जनता हमें और हमारी सरकार को अपना मानती है हमने पढ़ी-लिखी पंचायत, घर-घर गैस सिलेंडर, आयुष्मान भारत, खेतों में कच्चे रास्ते पक्के करना, टेल तक पानी पहुंचाना, किसानों की फसल का एक-एक दाना खरीदने का काम किया. इन उपलब्धियों से शहरी के साथ-साथ ग्रामीण जनता भी बीजेपी के साथ जुड़ी है.'

हरियाणाः दुष्यंत चौटाला ने मिलाया बसपा से हाथ, 50 सीटों पर JJP तो 40 पर BSP लड़ेगी चुनाव

'भ्रष्टाचार के खिलाफ ज़ीरो टॉलरेंस नीति'
मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने राज्य में भ्रष्टाचार के सवाल पर कहा कि भ्रष्टाचार का रोग एक दिन में ठीक नहीं हो सकता. उन्होंने कहा, 'हमने भ्रष्टाचार के खिलाफ ज़ीरो टॉलरेंस नीति अपनाई, जो लोग भ्रष्टाचार करके गए एजेंसियां उनपर भी कार्रवाई कर रही है. एजेएल का केस, जमीनों के घोटाले उजागर हो रहे हैं. हमने 10-12 साल से रुके हुए कुंडली-मानेसर-पलवल (KMP) एक्सप्रेस वे का काम पूरा किया. ई-गवर्नेंस पर काम किया जिससे लोगों को अब दफ्तरों के चक्कर नहीं काटने पड़ते. ऑनलाइन ट्रांसफर पॉलिसी शुरू की, पारदर्शिता तरीके से एक क्लिक पर 18,218 लोगों को नौकरियां दीं.'

कांग्रेस और इनेलो से कैसे अलग है बीजेपी
सीएम खट्टर ने बताया कि बीजेपी कैसे राज्य में दोनों विपक्षी पार्टियों कांग्रेस और इनेलो से कैसे अलग है. उन्होंने कहा, 'बीजेपी के नेताओं के लिए चुनाव लड़ना ही सब कुछ नहीं होता. बीजेपी के नेता और कार्यकर्ता निस्वार्थ भावना से काम करते हैं. वहीं कांग्रेस के नेता आत्मकेन्द्रित हैं और इनेलो नेताओं में विपक्ष में रहने का धैर्य नहीं है.'