हरियाणा: बीजेपी-जेजेपी के खिलाफ सड़कों पर उतरी कांग्रेस, जमकर की नारेबाजी

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता बजरंग दास गर्ग ने कहा कि बीजेपी ने सत्ता में आने से पहले बड़े-बड़े वायदे किए थे, लेकिन जनता को कुछ नहीं मिला.

हरियाणा: बीजेपी-जेजेपी के खिलाफ सड़कों पर उतरी कांग्रेस, जमकर की नारेबाजी
हिसार में प्रदर्शन करते कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ता.

हिसार: हरियाणा में विधानसभा चुनाव (Haryana Vidhansabha Election) में अच्छी परफॉर्मेंस के साथ वापसी करते हुए प्रमुख विपक्षी दल के रूप में उभरी कांग्रेस अब बीजेपी-जेजेपी के​ खिलाफ सड़कों पर भी उतर रही है. हिसार में मंगलवार को कांग्रेस नेताओं ने कार्यकर्ताओं को साथ लेकर प्रदर्शन करते हुए बीजेपी-जेजेपी सरकार पर विधायकों के एचआरए में किए गए बढ़ोतरी सहित तमाम मुद्दों को लेकर काफी गंभीर सवाल उठाए.

हिसार में कांग्रेस भवन से लेकर लघुसचिवालय तक प्रदर्शन किया गया, इस बीच नारेबाजी करते हुए जमकर बीजेपी और प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को कोसा गया. लघुसचिवालय गेट के बाहर प्रदर्शन के मद्देनजर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किए गए थे. दरअसल, कांग्रेस की प्रदेशाध्यक्ष कुमारी सैलजा ने चुनाव के कुछ वक्त बाद ही ऐलान कर दिया था कि विधानसभा के अंदर भी और बाहर भी बीजेपी-जेजेपी को आमजन से जुड़े मुद्दों पर घेरा जाएगा.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता बजरंग दास गर्ग ने कहा कि बीजेपी ने सत्ता में आने से पहले बड़े-बड़े वायदे किए थे, लेकिन जनता को कुछ नहीं मिला. एक तरफ जहां किसान परेशान है, महंगाई से आमजन हताश है वहीं बीजेपी-जेजेपी जनता के लिए कुछ करने की बजाय खुद के  विधायकों का एचआरए बढ़ाने में जुटे हैं. उन्होंने बताया कि बीजेपी की पोल खोलने के लिए पूरे प्रदेश में 25 नवंबर तक इसी प्रकार प्रदर्शन चलेंगे. 

गर्ग ने कहा कि जल्द ही दिल्ली में सोनिया गांधी की अगुवाई में राष्टीय सम्मेलन होगा, जिसमें देश के कोने-कोने से कांग्रेसी कार्यकर्ता पहुंचेंगे. हिसार से लोकसभा चुनाव लड़ने वाले भव्य बिश्नोई ने कहा कि बीजेपी ने केवल और केवल जनता को परेशान किया है. जनता आज पूरी तरह से सरकार की गलत नीतियों की वजह से तंग है.

आपको बता दें कि हरियाणा में इस बार विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने अच्छी वापसी करते हुए शुरू से ही आक्रमक रूप दिखाना शुरू कर दिया है. हालांकि आने वाले वक्त में माहौल और कैसे बदलेगा यह तो वक्त ही बताएगा. लेकिन कांग्रेस के इस प्रकार सड़कों पर उतरने से एक बात तो तय है कि जनता से जुड़े मुद्दों को लेकर कांग्रेस कुमारी सैलजा के नेतृत्व में फ्रंटफुट पर बेटिंग करने मूड में है.