हरियाणा: चुनाव में मिली हार पर मंथन कर रही बीजेपी, टिकटॉक स्टार भी फीडबैक देने पहुंचीं

हरियाणा के शिक्षा मंत्री कंवर पाल गुर्जर आज हिसार पहुंचे और यहां हारे हुए तमाम चार विधानसभा क्षेत्रों के पदाधिकारियों से फीडबैक जुटाया.

हरियाणा: चुनाव में मिली हार पर मंथन कर रही बीजेपी, टिकटॉक स्टार भी फीडबैक देने पहुंचीं
हिसार में आदमपुर हलके की बैठक लेते प्रदेश के शिक्षा मंत्री कंवर पाल गुर्जर, साथ में मौजूद है सोनाली फोगाट.

हिसार: हरियाणा विधानसभा चुनाव में मिशन 75 पार का नारा देने वाली बीजेपी एकाएक ऐसी स्थिति में कैसे आ गई कि वो अपने दम पर सरकार भी नहीं बना पाई. इन्हीं तमाम पहलुओं को जानने के लिए बीजेपी के मंथन का दौर लगातार जारी है. प्रदेश के शिक्षा मंत्री कंवर पाल गुर्जर आज हिसार पहुंचे और यहां हारे हुए तमाम चार विधानसभा क्षेत्रों के पदाधिकारियों से फीडबैक जुटाया है. प्रदेश के नए शिक्षा मंत्री कंवर पाल गुर्जर ने सिरसा रोड पर पार्टी कार्यालय में आदमपुर, उकलाना, नारनौंद और बरवाला विधानसभा हलकों के पदाधिकारियों से अलग-अलग मीटिंगे की. 

मीटिंग के बाद कंवर पाल गुर्जर का कहना था कि ये समीक्षा बैठक थी. हर बार ऐसी बैठकें होती रही हैं. उन्होंने कहा कि पार्टी के पदाधिकारियों ने जो फीडबैक दिया है, उस पर गौर किया जाएगा. जो खामियां रही हैं, उन पर ध्यान देंगे. बातचीत के दौरान पत्रकारों ने जब कैबिनेट मंत्रियों की हार पर चर्चा की तो शिक्षा मंत्री कंवर पाल से जब पूछा गया कि क्या उनकी हार की वजह घमंड था, या कोई और कारण तो उन्होंने साफ शब्दों में कहा कि घमंड नहीं था, हार का कारण संवाद की कमीं रही होगी. 

गुर्जर ने कहा कि संगठन मजबूत है, उन्होंने हरियाणा विधानसभा चुनाव में बीजेपी के वोट प्रतिश्त बढ़ने को उपलब्धि बताया. कंवर पाल ने इस बीच पुरानी सरकारों के कार्यकाल का भी उदाहरण दिया. इसके अलावा कांग्रेस द्वारा जेजेपी-बीजेपी के गठबंधन को बेमेल बताने और लगातार प्रदर्शनों का दौर कांग्रेस द्वारा शुरू किए जाने पर भी कंवर पाल गुर्जर ने चुटकी ली. उन्होंने कहा कि कांग्रेस हमें सही तो बताएगी नहीं और प्रदर्शन करना उनका अधिकार है.

बैठक में पहुंची टिकटॉक स्टार, लेकिन तत्कालीन वित्तमंत्री नहीं पहुंचे
बैठकों का दौर अलग-अलग चला. मसलन हर हलके की अगल बैठक हुई. बैठक में नारनौंद से हारने वाले तत्कालीन वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु नहीं पहुंचे. हालांकि उनके नुमाइंदे जरूर पहुंचे, वहीं बरवाला से सुरेंद्र पूनियां, उकलाना से आशा खेदड भी पहुंचीं. आदमपुर की बैठक में शिरकत करने पहुंची टिक टॉक स्टार और बीजेपी प्रत्याशी सोनाली फोगाट भी पहुंची. फोगाट ने बातचीत में खुलकर मीडिया के सामने बैठक की कार्रवाई बारे कुछ नहीं बोला, लेकिन इतना जरूर कहा कि सभी ने मेहनत की थी, तभी वोट प्रतिशत बढ़ा है. उन्होंने कहा कि जनता ने उनका साथ दिया, तभी उन्हें इतने वोट मिले. भितरघात संबंधित सवाल पर सोनाली ने कहा कि ऐसा नहीं हुआ, सभी ने मिलकर चुनाव लड़ा था. फोगाट ने कहा कि वो जनता के बीच रहती हैं और सुख-दु:ख में जनता के साथ ही रहेंगी.

आपकों बता दें कि हिसार जिला में 7 विधानसभाएं आती हैं. इनमें हिसार, नलवा और हांसी से ही ​बीजेपी प्रत्याशी विजयी रहे. जबकि 4 सीटें बीजेपी के हाथ से निकल गईं. इनमें एक कांग्रेस के पास तो 3 जेजेपी के पास गईं. ऐसे में हार के कारणों का मंथन करने के लिए हिसार जिला पर केबिनेट मंत्री कंवर पाल गुर्जर की ड्यूटी लगाई गई है. इसी सिलसिले में वो आज हिसार में फीडबैक जुटाते नजर आए.