close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

हरियाणा: इनेलो के 4 विधायकों ने विधानसभा के बाद अब पार्टी से भी दिया इस्तीफा

इनेलो के चार विधायकों ने पहले मंगलवार (3 सितंबर) को विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया और गुरुवार (5 सितंबर) को चारों ने पार्टी की प्राथमिक सदस्यता भी त्याग दी.

हरियाणा: इनेलो के 4 विधायकों ने विधानसभा के बाद अब पार्टी से भी दिया इस्तीफा
दुष्यंत चौटाला की मां नैना सिंह चौटाला (Naina Chautala) ने भी छोड़ी पार्टी

चंडीगढ़: विधानसभा चुनावों से ठीक पहले हरियाणा (Haryana) में चुनावी सरगर्मी और नेताओं के दल बदलने का चलन तेज हो गया है. इसी क्रम में गुरुवार को इनेलो (INLD) में नाराज चल रहे 4 पूर्व विधायकों ने पार्टी छोड़ दी है. बताया जा रहा है कि जननायक जनता पार्टी (JJP) समर्थक चारों विधायकों ने अपने इस्तीफे भेज दिए हैं. चारों विधायकों ने अपने इस्तीफे पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और प्रदेश अध्यक्ष को भेजे हैं. आपको बता दें कि दुष्यंत चौटाला की मां नैना सिंह चौटाला (Naina Chautala) और राजदीप फोगाट ने इनेलो से इस्तीफा दे दिया है. इनके साथ ही अनूप धानक और पिरथी नंबरदार ने भी इनेलो छोड़ दी है. इन सभी ने गुरुवार को इनेलो की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है.

आपको बता दें कि इस साल अंत तक हरियाणा में विधानसभा चुनाव (Assemby Election) होने हैं. विधानसभा चुनाव को लेकर तैयारियां भी शुरू हो गई हैं. राज्य में सभी राजनैतिक दलों ने अपना खेमा मजबूत करना शुरू कर दिया है. इसी क्रम में इनेलो के चार विधायकों ने पहले मंगलवार (3 सितंबर) को विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया और गुरुवार (5 सितंबर) को चारों ने पार्टी की प्राथमिक सदस्यता भी त्याग दी.

इससे पहले इन चारों ने विधानसभा अध्यक्ष कंवरपाल गुर्जर से मिलकर अपना इस्तीफा सौंपा था. जिसके बाद विधानसभा अध्यक्ष ने सभी का इस्तीफा भी मंजूर कर लिया था. यहां आपको यह भी बता दें कि दलबदल को लेकर दी गई याचिका के मामले में विधानसभा अध्‍यक्ष कंवरपाल गुर्जर ने चारों विधायकों को मंगलवार (3 सितंबर) को अपना पक्ष रखने का अंतिम मौका दिया था. लेकिन, सभी ने अचानक इस्तीफ दे दिया. इस मामले में विधानसभा अध्यक्ष कंवरपाल गुर्जर ने मीडिया को बताया था कि इनेलो के 4 विधायकों ने इस्तीफे सौंपे हैं, जिन्हें स्वीकार कर लिया गया है. हालांकि, उन्होंने यह भी कहा था कि दलबदल को लेकर मेरे पास जो याचिक लगाई गई है उस पर मैं पहले की तरह ही सुनवाई करूंगा.

देखें लाइव टीवी

विधानसभा अध्यक्ष ने कहा था कि अगर याचिकाकर्ता यह साबित कर देते हैं कि इन विधायकों ने दल बदल किया है तो सभी के खिलाफ कार्रवाई होगी. उस वक्त कंवरपाल गुर्जर ने यह भी स्पष्ट किया था कि इस्तीफा देने से याचिका पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा. उन्होंने कहा था कि 90 विधायकों में से अब तक 19 विधायक इस्तीफा दे चुके हैं, इनमें सबसे ज्यादा इनेलो के विधायक शामिल हैं.