close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

हरियाणा विधानसभा चुनाव: कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेता हो सकते हैं बीजेपी में शामिल : सूत्र

सूत्रों के मुताबिक, कांग्रेस के कुछ वरिष्ठ नेता पाला बदलने की फिराक में हैं. 

हरियाणा विधानसभा चुनाव: कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेता हो सकते हैं बीजेपी में शामिल : सूत्र
अगर वरिष्ठ नेता कांग्रेस का दामन छोड़ते हैं तो यह पार्टी के लिए एक बड़ी चिंता का विषय होगा.

नई दिल्ली: हरियाणा विधानसभा चुनाव 2019 (Haryana Assembly Elections 2019) का बिगुल बज चुका है. बीजेपी (BJP) अपना कुनबा और मजबूत करने की कोशिश में जुटी है. सूत्रों के मुताबिक, कांग्रेस (Congress) के कुछ वरिष्ठ नेता पाला बदलने की फिराक में हैं. सूत्रों का कहना है कि राज्य में सत्तारूढ़ पार्टी के साथ चार वरिष्ठ नेताओं ने बातचीत शुरू की है.

एक सूत्र ने कहा कि बीजेपी के शीर्ष नेताओं को इस घटनाक्रम की जानकारी है. सूत्रों ने कहा कि दल बदलने को अभी अंतिम रूप नहीं दिया गया है और इसकी औपचारिक घोषणा में कुछ दिन लग सकते हैं. यह वरिष्ठ नेता कांग्रेस का दामन छोड़ते हैं तो यह पार्टी के लिए एक बड़ी चिंता का विषय होगा.

राज्य में अपनी खोई हुई जमीन वापस पाने के लिए कांग्रेस पूरी कोशिश कर रही है. पार्टी हरियाणा में 2004 से ही गुटबाजी से जूझ रही है. मुख्यमंत्री पद के लिए तरजीह नहीं मिलने पर भजनलाल ने 2004 में कांग्रेस का साथ छोड़कर अपनी पार्टी बना ली थी. इसके बाद भूपेंद्र सिंह हुड्डा और वीरेंद्र सिंह के बीच तनाव चला. बाद में वीरेंद्र सिंह कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल हो गए. पिछले पांच वर्षों में राज्य के पूर्व पार्टी प्रमुख अशोक तंवर और हुड्डा के बीच भी कई बार सार्वजनिक तौर पर तनाव उभरकर सामने आया है.

हाल ही में कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष ने अशोक तंवर को हटाकर कुमारी शैलजा को राज्य की कमान सौंप दी. इसके साथ ही विधायक दल की नेता किरण चौधरी को भी हटा दिया गया और हुड्डा को कांग्रेस विधायक दल (सीएलपी) नेता नियुक्त किया गया. इस घटनाक्रम से पहले हुड्डा ने पद छोड़ने की धमकी दी थी. उन्होंने अपनी ताकत दिखाने के लिए 18 अगस्त को एक विशाल रैली का भी आयोजन किया था.

LIVE टीवी:

BJP के मौजूदा सांसदों के परिवार को नहीं दिया जाएगा टिकटः सूत्र
बीजेपी के मौजूदा सांसदों के परिवार में से किसी को भी टिकट नहीं दिया जाएगा. सूत्रों के हवाले से खबर है पार्टी हाईकमान ने प्रदेश बीजेपी को किसी भी सांसद के परिवार के व्यक्ति का नाम आगे ना भेजने की बात कही है. मौजूदा विधायक होने के कारण केवल हिसार सांसद बिजेंदर सिंह की माता जी प्रेमलता सिंह का नाम लिस्ट में भेजा गया है. प्रेमलता सिंह हिसार के ऊंचाणा विधानसभा सीट से वर्तमान विधायक हैं, साल 2014 में उन्होंने पूर्व सीएम ओम प्रकाश चौटाला को हराया था.

पार्टी सूत्रों के हवाले से यह भी खबर है कि हरियाणा में बीजेपी प्रदेश विधानसभा चुनावों में पंजाब की अपनी सहयोगी पार्टी शिरोमणि अकाली दल को 2 सीटें देने पर विचार कर रही है, बाकि 88 सीटों पर बीजेपी अपने प्रत्याशी उतारेगी. गौरतलब है विधानसभा सीटें ना दिए जाने पर अकाली दल ने प्रदेश की सभी 90 सीटों पर चुनाव लड़ने की बात कही थी.

(इनपुट: IANS से भी)