Zee Rozgar Samachar

हरियाणा सरकार ने दिया सचिवों और सरपंचों को प्रवचन सुनने का आदेश, विपक्ष हुआ नाराज

हरियाणा की मुख्य विपक्षी पार्टी ने स्वामी ज्ञानानंद के प्रवचन के दौरान सभी सरपंचों की मौजूदगी को लेकर आदेश जारी करने वाले भिवानी के एक अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है.

हरियाणा सरकार ने दिया सचिवों और सरपंचों को प्रवचन सुनने का आदेश, विपक्ष हुआ नाराज
फाइल फोटो

भिवानी: हरियाणा की मुख्य विपक्षी पार्टी ने स्वामी ज्ञानानंद के प्रवचन के दौरान सभी सरपंचों की मौजूदगी को लेकर आदेश जारी करने वाले भिवानी के एक अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए कहा है कि यह सरकारी तंत्र का दुरूपयोग है. भिवानी के जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी (डीडीपीओ) राम सिंह ने जिले में सभी सरपंचों और सचिवों से स्वामी ज्ञानानंद के प्रवचन कार्यक्रम में मौजूद रहने को कहा था. स्वामी ज्ञानानंद कुरूक्षेत्र स्थित ग्लोबल इंस्पिरेशन एंड इनलाइटमेंट आर्गेनाइजेशन ऑफ भगवद्गीता के प्रमुख हैं. 

पत्र के बारे में नहीं है जानकारी- डीडीपीओ
डीडीपीओ ने 25 जुलाई को सभी प्रखंड विकास एवं पंचायत अधिकारियों को यह सूचना भेजी थी कि वे स्वामी ज्ञानानंद के कार्यक्रम के लिए सभी सरपंचों और पंचायत सचिवों की उपस्थिति सुनिश्चित करें. पत्र में डीडीपीओ ने जिक्र किया कि हरियाणा संस्कृत अकादमी, पंचकूला गांवों को आदर्श, संस्कारवान और तनाव मुक्त बनाने के लिए स्वामी ज्ञानानंद जी महाराज का प्रवचन आयोजित कर रही है. इस संबंध में डीडीपीओ से संपर्क नहीं हो पाया लेकिन उपायुक्त अंशज सिंह ने कहा कि वह इस तरह के किसी पत्र से वाकिफ नहीं हैं.

सरकारी तंत्र का किया गया दुरुपयोग
उन्होंने फोन पर कहा, ‘‘मुझे इस तरह के किसी आधिकारिक पत्र के बारे में नहीं पता. मैं (इस बारे में) पता करूंगा. जिला प्रशासन ने कार्यक्रम का आयोजन नहीं किया था.’’ इनेलोद ने डीडीपीओ के खिलाफ तुरंत कार्रवाई की मांग की है. इनेलोद नेता आरएस चौधरी ने कहा, ‘‘ऐसा कार्यक्रम जहां धार्मिक नेता प्रवचन देते हैं, इसे आधिकारिक बैठक कहना या आधिकारिक तौर पर निर्देश जारी नहीं किया जा सकता. यह सरकारी तंत्र का सरासर दुरुपयोग है.’’ 

(इनपुट भाषा से)

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.