हरियाणा+महाराष्ट्र चुनाव के रिजल्ट आए, लेकिन पिक्चर में ये 5 सस्पेंस बरकरार

महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनाव के नतीजे (2019 Vidhan Sabha election results) आ गए हैं.  बीजेपी (BJP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah) ने ट्वीट कर साफ कर दिया है कि बीजेपी (BJP) दोनों ही राज्यों में सरकार बनाने जा रही है. उम्मीद है कि इतनी सूचना आप अब तक जान चुके होंगे, लेकिन इस चुनाव रूपी फिल्म में अभी 5 बातों पर से पर्दा हटना बाकी है, आइए उसी पर नजर डालते हैं.

हरियाणा+महाराष्ट्र चुनाव के रिजल्ट आए, लेकिन पिक्चर में ये 5 सस्पेंस बरकरार
2019 Vidhan Sabha election results: हरियाणा और महाराष्ट्र चुनाव रिजल्ट आने के बाद भी कई बातों पर तस्वीरें साफ नहीं हो पाई है. तस्वीर साभार- रायटर

नई दिल्ली: महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनाव के नतीजे (2019 Vidhan Sabha election results) आ गए हैं. बीजेपी (BJP)+शिवसेना गठबंधन ने महाराष्ट्र में बहुमत के जादुई आकंड़े को पार करते हुए 162 सीटें या तो जीत गए हैं या आगे चले रहे हैं. वहीं हरियाणा में बीजेपी (BJP) बहुमत के आंकड़े से पीछे रह गई है, हालांकि यहां की जनता ने उसे सबसे बड़ा दल बनाया है. दोनों राज्यों के चुनाव रिजल्ट के आने के पहले बातें हो रही थीं कि बीजेपी (BJP) के सामने विपक्ष कहीं नहीं ठहर रही है, लेकिन अब साफ हो चुका है कि ऐसा नहीं है. हालांकि बीजेपी (BJP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah) ने ट्वीट कर साफ कर दिया है कि बीजेपी (BJP) दोनों ही राज्यों में सरकार बनाने जा रही है. उम्मीद है कि इतनी सूचना आप अब तक जान चुके होंगे, लेकिन इस चुनाव रूपी फिल्म में अभी 5 बातों पर से पर्दा हटना बाकी है, आइए उसी पर नजर डालते हैं.

1. महाराष्ट्र का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा?
महाराष्ट्र की जनता ने इस बार इस तरह से चार दलों के बीच सीटों का बंटवारा किया है हरेक दल के पास अपना मुख्यमंत्री बनाने का मौका है. अब भारतीय जनता पार्टी 104 सीटें जीतती दिख रही है. वहीं शिवसेना के प्रत्याशी 57 सीटों पर जीतते दिख रहे हैं. वहीं कांग्रेस के 46 और एनसीपी के 53 प्रत्याशी जीतते हुए दिख रहे हैं. इस हिसाब से अगर कांग्रेस+एनसीपी गठबंधन शिवसेना को अपने पाले में ले आती है तो राज्य में गैर बीजेपी (BJP) सरकार बन सकती है. हालांकि शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे और मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने चुनाव पर दिए गए अपनी पहली प्रतिक्रिया में साफ कर दिया है कि दोनों दल मिलकर सरकार बनाने जा रहे हैं. दोनों नेताओं के बयान में यह साफ नहीं हो पाएगा कि आखिर शिवसेना का अगला सीएम कौन और किस दल का होगा. उद्धव ने 50-50 फॉर्मूले की शर्त रख दी है. शिवसेना का सीएम के सवाल पर उन्होंने पत्रकार से कहा कि आपके मुंह में घी-शक्कर. वहीं सीएम देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि सीएम का मुद्दा बातचीत से सुलझा लेंगे.

2. क्या शिवसेना मुख्यमंत्री का पद लेगी?
शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने बीजेपी (BJP) के सामने सरकार बनाने के लिए 50-50 के फॉर्मूले की शर्त रखी है. ऐसे में सवाल उठता है कि क्या बीजेपी (BJP) के लिए शिवसेना मुख्यमंत्री का पद छोड़ने पर तैयार हो पाएगी. 

3. हरियाणा में किसकी बनेगी सरकार?
बीजेपी (BJP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah) ने दावा किया है कि हरियाणा में बीजेपी (BJP) सरकार बनाने जा रही है. सूत्रों से खबर है कि दुष्यंत चौटाला की जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) बीजेपी (BJP) को सपोर्ट कर सकती है. हालांकि जेजेपी की ओर से इस पर अभी तक कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है. उधर, कांग्रेस के भूपेंद्र सिंह हुड्डा और उनके बेटे दीपेंद्र सिंह हुड्डा भी मीडिया में सरकार बनाने का दावा कर चुके हैं. कांग्रेस को सरकार बनाने के लिए जेजेपी के 10 विधायकों के साथ निर्दलीय और अन्य दलों के 5 विधायकों के सपोर्ट की जरूरत होगी.

4. हरियाणा में JJP किसके साथ जाएगी? 
हरियाणा विधानसभा चुनाव में जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) किंगमेकर के रूप में उभरकर सामने आई है. पहली बार चुनाव में उतरी इस पार्टी के 10 प्रत्याशियों ने जीत दर्ज की है. राज्य में त्रिशंकु परिणाम आए हैं इसलिए देखना दिलचस्प होगा कि जेजेपी बीजेपी (BJP) को सपोर्ट करती है या कांग्रेस की सरकार बनवाती है. जेजेपी की ओर से कहा गया है कि 25 अक्टूबर को पार्टी की बैठक में इसपर फैसला लिया जाएगा.

5. दिल्ली, झारखंड के चुनाव पर क्या असर होगा?
महाराष्ट्र और हरियाणा में जिस तरह के चुनाव रिजल्ट आए हैं, उससे साफ हो गया है कि इसका असर आगामी दिल्ली विधानसभा चुनाव और झारखंड विधानसभा चुनाव में दिख सकता है. झारखंड में इसी साल चुनाव होने हैं, वहीं दिल्ली में अगले साल की शुरुआत में ही विधानसभा के चुनाव होने हैं.

लाइव टीवी देखें-:

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.