केजरीवाल के खिलाफ मानहानि के तीन मामलों की सुनवाई 9 अक्टूबर तक टली

इससे पहले मानहानि के दो मामले में कोर्ट ने अरविंद केजरीवाल (Arvind kejriwal)  और मनीष सिसोदिया को जमानत दी थी.

 केजरीवाल के खिलाफ मानहानि के तीन मामलों की सुनवाई 9 अक्टूबर तक टली
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल

नई दिल्ली: दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind kejriwal) के खिलाफ राउज एवेन्यू कोर्ट (Rouse Avenue Court) में  चल रहे मानहानि के तीन मामलों की सुनवाई 9 अक्टूबर तक के लिए टल गई है. बता दें केजरीवाल ने अपने खिलाफ चल रहे आपराधिक मानहानि के मामलों को सेशन कोर्ट में चुनौती दी है.

इससे पहले मानहानि के दो मामले में कोर्ट ने अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया को जमानत दी थी. कोर्ट ने दोनों केस में 10-10 हजार के निजी मुचलके पर ये जमानत दी थी. दरअसल, मानहानि का केस राजीव बब्बर और बीजेपी विधायक विजेंद्र गुप्ता ने  दर्ज करवाया था. राउज एवेन्यू कोर्ट ने केजरीवाल और सिसोदिया को समन भेजा था. 

विजेंद्र गुप्ता के पक्ष में दो गवाहों ने बयान दर्ज कराए थे. कोर्ट में भारतीय जनता युवा मोर्चा के राज्य सचिव दीपक बंसल और दिल्ली यूनिवर्सिटी में लॉ के छात्र अनुराग मलिक ने बयान दर्ज कराए थे.

विजेंद्र गुप्ता की तरफ से अधिवक्ता ने कहा था कि वह प्री-समनिंग एविडेंस को बंद करना चाहते हैं. गुप्ता ने अपने बयान में कहा था कि अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया ने जानबूझकर उनकी और बीजेपी की छवि खराब करने की कोशिश की.अरविंद केजरीवाल ने पहले अपनी सुरक्षा हटवाई और इसके बाद उन्हें थप्पड़ मारे जाने की घटना हुई जबकि इसका आरोप बीजेपी और उन पर लगाया गया. उन्होंने आरोप लगाया कि केजरीवाल बार-बार उनकी छवि को खराब करने की कोशिश कर रहे हैं.

इससे पहले केजरीवाल ने पंजाब के एक समाचार चैनल में इंटरव्यू दिया था, जिसमें कहा था कि बीजेपी उनकी हत्या कराना चाहती है.अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया ने विजेंद्र गुप्ता पर हत्या की साजिश रचने वालों में शामिल होने का आरोप लगाया था. इस बयान के बाद विजेंद्र गुप्ता ने नोटिस भेजकर माफी मांगने के लिए कहा था.जब माफी नहीं मांगी तो गुप्ता ने अदालत में मानहानि का केस दायर कर एक करोड़ रुपये का मुआवजा मांगा था.